अनचाही वजह से रिकॉर्ड बुक में मिली पिंक बॉल टेस्ट को जगह, पहली बार हुई ऐसी अनहोनी  

क्रिकेट
Updated Nov 22, 2019 | 18:33 IST

Two concussion substitute in one inning of test Match: कोलकाता टेस्ट के दौरान पहली बार डे नाइट टेस्ट में कन्कशन सब्स्टीट्यूट नियम का इस्तेमाल हुआ। लेकिन एक ऐसी घटना भी घटी जो टेस्ट इतिहास में पहले कभी नहीं हुई।

Liton das injury
Liton das injury   |  तस्वीर साभार: AP

कोलकाता: भारत और बांग्लादेश के बीच कोलकाता के इडेन गार्डन्स में खेला जा रहे डे नाइट टेस्ट एक अनचाही वजह से रिकॉर्ड बुक्स में दर्ज हो गया है। पहली बार टेस्ट क्रिकेट में दो खिलाड़ी मैच से चोट के कारण बाहर हुए और उनकी जगह टीम में दो कन्कशन सब्सटीट्यूट खिलाड़ियों को शामिल किया गया। टेस्ट इतिहास में पहली बार एक मैच और एक पारी में एक ही टीम मे दो बार कन्कश्न सब्स्टीट्यूट नियम का इस्तेमाल किया। भारत के खिलाफ टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी बांग्लादेश की टीम को दो खिलाड़ी लिटन दास और नईम हसन हेलमेट पर गेंद लगने के बाद कन्कशन टेस्ट पास नहीं कर पाए और उनकी जगह मेहदी हसन और तैजुल इस्लाम को बांग्लादेशी टीम ने शामिल किया गया।  

इन सबस्टीट्यूशन की सबसे रोचक बात यह रही कि कप्तान मोमिनुल हक ने इस मैच के लिए जिन दो खिलाड़ियों को बाहर किया था वो खिलाड़ियों के चोटिल होने की वजह से टीम में वापस जगह बनाने में सफल हो गए। ऐसे में मैच के पहले दिन ही दो बदलाव के साथ उतरी टीम इंदौर में पारी और 130 रन के अंतर से हार का सामना करने वाली टीम में तब्दील हो गई। 

बांग्लादेशी ऑफ स्पिनर मेहदी हसन ने डे-नाइट टेस्ट क्रिकेट के इतिहास के पहले कन्कशन सब्सटीट्यूट बन गए। पिंक बॉल टेस्ट के पहले दिन लंच से ठीक पहले 22वें ओवर की चौथी गेंद लिटन दास के हेलमेट पर जा लगी। ऐसे में अंपायर्स ने सपर ब्रेक का ऐलान कर दिया। लिटन दास ने रिटायर्ड हर्ट होकर पवेलियन लौटने का निर्णय किया। ब्रेक के बाद वो दोबारा बल्लेबाजी करने नहीं उतरे। इस दौरान हुए कन्कशन टेस्ट को वो पास नहीं कर सके ऐसे में मेहदी हसन डे नाइट टेस्ट इतिहास के पहले कन्कशन सब्सटीट्यूट बन गए। इसके बाद लंच के बाद नईम हसन के हेलमेट पर मोहम्मद शमी की गेंद लग गई। नईम हालांकि इसके बाद भी बल्लेबाजी करते रहे लेकिन बांग्लादेश की पारी 106 रन पर ढहने के बाद खबर आई की वो भी चोट के कारण टीम से बाहर हो गए हैं। उनकी जगह तैजुल इस्लाम को एकादश में शामिल किया गया है। लिटन दास की जगह एकादश में जगह पाने वाले मेहदी हसन मैच में गेंदबाजी नहीं कर सकेंगे। क्योंकि लिटन दास बतौर बल्लेबाज टीम में थे ऐसे में हसन केवल बैटिंग और फील्डिंग कर सकेंगे। 

1 अगस्त 2019 को एशेज सीरीज के आगाज के साथ कनक्शन सब्सटीट्यूट का नियम लागू होने के बाद ऑस्ट्रेलिया ने मार्नस लाबुशेन टेस्ट इतिहास के पहले कन्कशन सब्स्टीट्यूट बने थे। उन्हें स्टीव स्मिथ के जोफ्रा आर्चर की गेंद पर चोटिल होने के बाद टीम में शामिल किया गया था। उसके इस मैच से पहले तीन बार कन्कशन सब्सटीट्यूट का इस्तेमाल हुआ था लेकिन डे नाइट टेस्ट में पहली बार एक साथ दो खिलाड़ियों को कन्कशन सब्स्टीयूट के रूप में शामिल करना पड़ा। 

टेस्ट क्रिकेट में कन्कशन सबस्टीट्यूट 
मार्नर लाबुशेन        स्टीव स्मिथ के लिए लॉर्ड्स      2019
जर्मेन ब्लैकवुड       डेरेन ब्रावो के लिए किंग्सटन    2019
थेनिस डी ब्रुयन      डीन एल्गर के लिए रांची          2019
मेहदी हसन           लिटन दास के लिए कोलकाता  2019
तैजुल इस्लाम         नईम हसन के लिए कोलकाता  2019

अगली खबर
अनचाही वजह से रिकॉर्ड बुक में मिली पिंक बॉल टेस्ट को जगह, पहली बार हुई ऐसी अनहोनी   Description: Two concussion substitute in one inning of test Match: कोलकाता टेस्ट के दौरान पहली बार डे नाइट टेस्ट में कन्कशन सब्स्टीट्यूट नियम का इस्तेमाल हुआ। लेकिन एक ऐसी घटना भी घटी जो टेस्ट इतिहास में पहले कभी नहीं हुई।
loadingLoading...
loadingLoading...
loadingLoading...