VIDEO: इस बल्लेबाज के अजीब तरह से आउट होने पर मचा हंगामा, अंपायर ने क्यों दिया HIT-WICKET?

Brendan Taylor controversial dismissal: जिंबाब्वे के दिग्गज व अनुभवी बल्लेबाज ब्रेंडन टेलर रविवार को बांग्लादेश के खिलाफ वनडे मैच में जिस तरह आउट हुए, उससे अंपायरिंग को लेकर एक नया विवाद खड़ा हो गया है।

Brendan Taylor Hit-Wicket
Brendan Taylor Hit-Wicket  |  तस्वीर साभार: Twitter

मुख्य बातें

  • बांग्लादेश बनाम जिंबाब्वे - दूसरा वनडे मैच - अंपायर के एक फैसले पर खड़ा हुआ विवाद
  • जिंबाब्वे के अनुभवी बल्लेबाज ब्रेंडन टेलर को अजीबोगरीब तरह से दिया गया आउट
  • हिट-विकेट का फैसला देकर टेलर को लौटाया पवेलियन, क्रिकेट नियमों को लेकर अंपायर पर उठ रहे सवाल

जिंबाब्वे और बांग्लादेश (ZIM vs BAN) के बीच खेली जा रही वनडे सीरीज का रविवार को दूसरा मैच खेला गया। हरारे में खेले गए इस मैच में जिंबाब्वे ने 50 ओवर में 9 विकेट के नुकसान पर 240 रन का स्कोर खड़ा किया। जवाब में उतरी बांग्लादेश की टीम ने शाकिब अल हसन (Shakib al Hasan) द्वारा खेली गई नाबाद 96 रन की पारी के दम पर 7 विकेट खोते हुए 49.1 ओवर में लक्ष्य हासिल कर लिया। वैसे, इस मुकाबले में जिंबाब्वे का स्कोर और भी बड़ा हो सकता था और ये मैच रोमांचक भी बन सकता था, बस अगर ब्रेंडन टेलर (Brendan Taylor) का एक विकेट नहीं गिरता।

दरअसल, जब जिंबाब्वे की टीम बल्लेबाजी कर रही थी, तब उनके सबसे अनुभवी बल्लेबाज व कप्तान ब्रेंडन टेलर 46 रन बनाकर मजबूती से अर्धशतक की ओर बढ़ रहे थे। वो जिस अंदाज में खेल रहे थे, उससे ये साफ था कि वो एक बड़ी पारी को अंजाम दे सकते थे लेकिन ऐसा हुआ नहीं, क्योंकि 25वें ओवर की दूसरी गेंद पर टेलर को अजीबोगरीब ढंग से आउट करार दे दिया गया।

आखिर उस गेंद पर हुआ क्या था?

ब्रेंडन टेलर 25वें ओवर में शोरिफुल इस्लाम (Shoriful Islam) की एक गेंद पर अपर-कट शॉट खेलने का प्रयास करते हैं लेकिन गेंद से बल्ले का संपर्क नहीं हो पाता। तभी जब गेंद पीछे जा चुकी होती है, वो आम तरह से वापस अपनी पोजिशन पर आते हुए बल्ले को लहराते हुए वापस लाते हैं, तभी बैट पीछे विकेटों से टकरा गया। किसी और का तो खास ध्यान गया नहीं लेकिन बांग्लादेश के एक फील्डर ने इसको नोटिस किया और अंपायर से अपील की। ऑन फील्ड अंपायर मरायस इरासमस ने भी कुछ देखा नहीं था इसलिए फैसले की जिम्मेदारी थर्ड अंपायर को सौंप दी गई।

हिट-विकेट का विवादित फैसला आया, क्या कहते हैं नियम?

टीवी अंपायर लैंगटन रूसेयर ने इसका रीप्ले देखा और फैसला सुना दिया कि ब्रेंडन टेलर हिट-विकेट (Hit-Wicket) हो गए हैं और 46 रन पर खेल रहे इस बल्लेबाज को पवेलियन लौटना होगा। इस विकेट को देखकर कुछ ही देर में ड्रेसिंग रूप से लेकर सोशल मीडिया तक हलचल मचनी शुरू हो जाती है और सब नियमों की खोज में जुट जाते हैं। अगर नियमों की बात करें तो कानून 35.1.1.1 के तहत बल्लेबाज को तब हिट-विकेट आउट दिया जा सकता है जब वो गेंद खेलने के प्रयास के दौरान अपने बल्ले या शरीर से गिल्लियां गिरा देता है।

वहीं, कानून 35.2 कहता है कि बल्लेबाज को तब हिट-विकेट आउट नहीं दिया जा सकता जब गेंद को खेलने का उसका प्रयास समाप्त हो चुका होता है और उसके बाद बल्ले से वो गिल्लियां बिखेर देता है। इसके अलावा डेड-बॉल नियम भी है जो कहता है कि बॉल डेड हो जाती है जब गेंद वापस कीपर या गेंदबाज के हाथों में पहुंच चुकी होती है। यानी उसके बाद हिट-विकेट का कोई फैसला नहीं दिया जा सकता।

अंपायर क्या सोचता है, ये अहम

अब जब टेलर को आउट दे दिया गया है, ऐसे में सवाल उठता है कि क्या थर्ड अंपायर ने नियमों को ताक पर रखते हुए ये फैसला लिया। ऐसे में एक चीज और समझनी होगी कि अंपायर के पास अपनी सोच व समझ का अधिकार भी होता है। जैसे टेलर के मामले में अगर कोई ठोस साक्ष्य नहीं है और अंपायर को लगता है कि ये हिट-विकेट की कैटेगरी में आता है तो वो उसे आउट करार दे सकते हैं।

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर