जाते-जाते टीम इंडिया की सबसे बड़ी समस्‍या का हल बता गए प्रमुख चयनकर्ता एमएसके प्रसाद

क्रिकेट
Updated Nov 28, 2019 | 17:37 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

Chief selector MSK Prasad: एमएसके प्रसाद का कार्यकाल समाप्‍त होने को आया है। उन्‍होंने जाने से पहले टीम इंडिया की सबसे बड़ी समस्‍या का हल बता दिया है। जानिए प्रसाद ने नंबर-4 का दावेदार किस बल्‍लेबाज को बताया।

shreyas iyer
श्रेयस अय्यर 

मुख्य बातें

  • एमएसके प्रसाद ने टीम इंडिया की सबसे बड़ी परेशानी नंबर-4 का दावेदार बताया
  • भारतीय टीम पिछले दो साल से इस समस्‍या से जूझ रही है
  • श्रेयस अय्यर ने इस क्रम पर बेहतर प्रदर्शन करते हुए लगातार दो अर्धशतक जमाए

नई दिल्‍ली: प्रमुख चयनकर्ता एमएसके प्रसाद का कार्यकाल समाप्‍त होने को आया है। उन्‍होंने जाने से पहले टीम इंडिया की सबसे बड़ी समस्‍या नंबर-4 का हल बताया है। प्रसाद ने श्रेयस अय्यर को नंबर-4 के लिए आदर्श बल्‍लेबाज करार दिया है। बता दें कि टीम इंडिया पिछले दो साल से नंबर-4 के बल्‍लेबाज की समस्‍या से जूझ रही है। अय्यर ने नवंबर 2017 में टीम इंडिया के लिए डेब्‍यू किया और अपनी पहली वनडे सीरीज में श्रीलंका के खिलाफ बैक टू बैक दो अर्धशतकीय पारियां खेली। दो महीने बाद अय्यर ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे सीरीज खेली, लेकिन इसके बाद वह टीम से अपनी जगह गंवा बैठे।

श्रेयस अय्यर की इस साल वेस्‍टइंडीज के खिलाफ वनडे सीरीज के लिए भारतीय टीम में वापसी हुई। उन्‍हें 2019 विश्‍व कप के लिए राष्‍ट्रीय टीम में मौका नहीं मिला था। प्रसाद ने एक इंटरव्‍यू में कहा, 'अगर आपको ध्‍यान हो तो विराट कोहली जब आराम कर रहे थे, तब हमने श्रेयस अय्यर को टीम में शामिल किया था। 18 महीने बाद उनकी टीम में वापसी हुई और उन्‍होंने दमदार प्रदर्शन किया। दुर्भाग्‍यवश हम उन्‍हें लगातार मौके नहीं दे सके। श्रेयस ने बतौर क्रिकेटर काफी परिपक्‍वता हासिल की और वह टी20 व वनडे में नंबर-4 की समस्‍या का हल बन सकते हैं।'

24 साल के अय्यर ने घरेलू क्रिकेट में मुंबई के लिए दमदार प्रदर्शन किया और फिर भारत ए के लिए भी उम्‍दा पारियां खेली। अब वह दोबारा भारतीय टी20 और वनडे टीम में शामिल हो चुके हैं। 2016 में प्रमुख चयनकर्ता के रूप में नियुक्‍त हुए प्रसाद ने कहा कि दुर्भाग्‍यवश विश्‍व कप में श्रेयस अय्यर जगह नहीं बना सके। प्रसाद की अध्‍यक्षता वाली चयन समिति के कार्यकाल में भारतीय टीम ने नई ऊंचाइयां हासिल की। विराट कोहली के नेतृत्‍व में टीम इंडिया ने ऑस्‍ट्रेलिया में टेस्‍ट सीरीज जीती। उसके पास दिग्‍गज तेज गेंदबाजी आक्रमण हुआ। भारत दोबारा टेस्‍ट में नंबर-1 बना। मगर भारतीय टीम कोई बड़ा टूर्नामेंट जीतने में कामयाब नहीं हुई।

यह पूछने पर कि टेस्‍ट क्रिकेट में भारतीय टीम का तेज गेंदबाजी आक्रमण चयन समिति की विरासत कहलाएगा? इस पर प्रसाद ने कहा, 'हमारी प्राथमिकता सही प्रतिभा को तराशना था। उन्‍हें प्रक्रिया द्वारा बढ़ाना और सही समय पर सीनियर टीम में जगह देना था ताकि वह बेहतर प्रदर्शन करें। बुमराह के अलावा इशांत, उमेश और शमी हमारी समिति नियुक्‍त होने से पहले से योजनाओं में शामिल थे। हमारी उपलब्धि यह रही कि इन सभी ने मिलकर एक बेहतर तेज गेंदबाजी संयोजन बनाया। हमारे रहते बुमराह टॉस क्‍लास गेंदबाज बनकर उभरे।'

वहीं बल्‍लेबाजी विभाग में केएल राहुल, हनुमा विहारी, पृथ्‍वी शॉ और मयंक अग्रवाल को टेस्‍ट टीम में मौका मिला। विहारी और अग्रवाल ने चयनकर्ताओं का भरोसा जीता और खुद को साबित किया। पिछले महीने रोहित शर्मा को टेस्‍ट में ओपनिंग की जिम्‍मेदारी दी गई, जिसे उन्‍होंने बखूबी साबित किया और एक दोहरे शतक सहित तीन शतक जड़े।

भारत के लिए 17 वनडे और 6 टेस्‍ट खेलने वाले प्रसाद ने कहा, 'यह चयन समिति और टीम प्रबंधन का मिला-जुला फैसला था। रोहित शर्मा सफेद गेंद क्रिकेट में शानदार लय में थे। हमें लगा कि वह टेस्‍ट टीम को काफी फायदा पहुंचा सकते हैं। हमारे पास घर में पांच टेस्‍ट थे और रोहित के पास अपनी जगह पक्‍की करने के लिए इससे बेहतर मौका नहीं होता।'

वैसे, चयन समिति काफी विवादों में भी रही और उनके कम अनुभव का मजाक भी बनाया गया। प्रसाद ने कहा कि लगातार आलोचना उनके रास्‍ते को रोक नहीं सकी। उन्‍होंने कहा, 'दबाव तो विशेषाधिकार है। यह कम लोगों पर होता है। मैं इसका सामना कर पाया, जिसको लेकर काफी खुश हूं। मैं अपने साथियों के लिए भी बहुत खुश हूं, जिन्‍होंने बहुत अच्‍छे से दबाव का सामना किया। हम सभी ने एकजुट होकर फैसले लिए और हमारा पूरा ध्‍यान अपनी जिम्‍मेदारियों पर लगा हुआ था। बीसीसीआई ने हम पर भरोसा कायम रखा और हमने उसी मुताबिक अपना काम विश्‍वसनीयता के साथ किया।'

अगले साल टी20 विश्‍व कप के लिए टीम संयोजन खोज लिया गया है? इस पर प्रसाद ने कहा कि प्रतिष्ठित इवेंट के लिए टीम संयोजन के हम बेहद करीब हैं। प्रयोग लगातार जारी हैं और आईपीएल से इस पर ज्‍यादा प्रभाव पड़ेगा। प्रसाद ने कहा, 'मेरे ख्‍याल से प्रमुख टीम बनाने के हम बेहद करीब पहुंच चुके हैं। कुछ स्‍थान हैं, जिस पर अगले कुछ महीनों में फैसला हो जाएगा या फिर आईपीएल तक इंतजार करना होगा। आईपीएल के बाद पिक्‍चर स्‍पष्‍ट हो जाएगी।'

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर