वो मुकाबला जिसमें जड़े गए थे सबसे ज्यादा शतक, ऑस्ट्रेलिया ने तो बना डाला था विश्व रिकॉर्ड

Cricket history, Australia vs West Indies Kingston test: ऑस्ट्रेलिया और वेस्टइंडीज के बीच जून 1955 में खेला गया मुकाबला सबसे ज्यादा शतकों का गवाह बना था।

Australia cricket team
Australia cricket team  |  तस्वीर साभार: AP, File Image

मुख्य बातें

  • टेस्ट क्रिकेट इतिहास का सबसे धमाकेदार मैच, जब जमकर बरसे थे शतक
  • ऑस्ट्रेलिया और वेस्टइंडीज के बीच किंग्सटन में खेला गया था मुकाबला
  • मेजबान टीम के खिलाफ ऑस्ट्रेलिया ने बना दिया था नया विश्व रिकॉर्ड

Cricket Throwback: क्रिकेट आंकड़ों का खेल है और यहां हर आंकड़ा बेहद अहम होता है। जितने जरूरी आंकड़े हैं, उतने ही खास होते हैं इन आंकड़ों के दम पर बनने वाले बड़े रिकॉर्ड। आज हम आपको ऐसे ही एक खास रिकॉर्ड के बारे में बताने जा रहे हैं, या ये भी कह सकते हैं कि सबसे खास टेस्ट मैच के बारे में बताने जा रहे हैं। ये मुकाबला ऑस्ट्रेलिया और वेस्टइंडीज के बीच खेला गया था जहां विश्व रिकॉर्ड बना और फैंस का जमकर मनोरंजन भी हुआ।

जून 1955

1955 में जब ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम इयान जॉनसन की अगुवाई में वेस्टइंडीज दौरे पर गई हुई थी। पांच मैचों की उस सीरीज के शुरुआती चार मैचों में से मौसम ने सिर्फ दो मैच ही होने दिए थे। ये दोनों ही मुकाबले ऑस्ट्रेलिया ने जीते थे। सीरीज का पांचवां व अंतिम टेस्ट खेलने मेहमान ऑस्ट्रेलियाई टीम किंग्सटन पहुंची और यहां जमकर हुई रनों और शतकों की बारिश।

पहली पारी में वेस्टइंडीज

मैच में वेस्टइंडीज ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया और वे 357 रन बनाकर ऑलआउट हुए। इस दौरान वेस्टइंडीज के क्लाइड वॉलकॉट ने 155 रनों की पारी खेली।

ऑस्ट्रेलिया ने अपनी पहली पारी में बना दिया विश्व रिकॉर्ड

इसके बाद जब ऑस्ट्रेलियाई टीम जवाब देने उतरी तो दुनिया देखती रह गई। ऑस्ट्रेलियाई टीम ने 7 रन पर अपने पहले दो विकेट गंवा दिए थे लेकिन उसके बावजूद उन्होंने 245.4 ओवर बल्लेबाजी करते हुए 8 विकेट पर 758 रनों का विशाल स्कोर खड़ा कर दिया। इसकी वजह बने पांच बल्लेबाज जिन्होंने शतक जड़ डाले। मैकडॉनल्ड ने 127 रन बनाए, मिलर ने 109 रन, आर्चर ने 128 रन, रिची बेनॉ ने 121 रन और नील हार्वे ने तो 204 रनों की पारी खेल डाली। इस तरह एक पारी में सर्वाधिक शतकों का नया रिकॉर्ड बन गया। एक पारी में पांच शतकों का ये रिकॉर्ड 2001 में पाकिस्तान ने मुल्तान में बांग्लादेश के खिलाफ बराबरी की थी। पाकिस्तान ने उस मैच की दूसरी पारी में 5 शतक जड़े थे हालांकि उनका स्कोर (546) ऑस्ट्रेलिया के स्कोर (758) से काफी कम था।

इसके बाद लगा एक और शतक

पहली पारी में वेस्टइंडीज की तरफ से एक शतक और ऑस्ट्रेलिया की तरफ से 5 शतकों के बाद इस मैच में शतकों की संख्या 6 हो चुकी थी। लेकिन अभी कुछ और भी होना बाकी था। जब वेस्टइंडीज दूसरी पारी में बल्लेबाजी करने उतरी तो पहली पारी में शतक जड़ने वाले क्लाइड वॉलकॉट ने एक और शतक जड़ डाला। इस बार उन्होंने 110 रनों की पारी खेली। हालांकि वेस्टइंडीज कुल 319 रनों पर सिमट गई और इस 6 दिवसीय टेस्ट मैच को ऑस्ट्रेलिया ने पारी और 82 रन से जीत लिया। इसके साथ ही इस मैच में कुल 7 शतक लगे जो कि एक रिकॉर्ड है।

अगली खबर