IND vs SA: क्‍या जसप्रीत बुमराह को गेंदबाजी एक्‍शन के कारण गंभीर चोट लगी? आशीष नेहरा ने दिया करारा जवाब

क्रिकेट
Updated Sep 29, 2019 | 16:06 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

बुमराह पीठ के निचले हिस्‍से में स्‍ट्रेस फ्रैक्‍चर के कारण दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ आगामी तीन मैचों की टेस्‍ट सीरीज से बाहर हो गए हैं। वह इसके बाद बांग्‍लादेश के खिलाफ सीरीज में भी नहीं खेलेंगे।

jasprit bumrah
जसप्रीत बुमराह 

मुख्य बातें

  • जसप्रीत बुमराह पीठ के निचले हिस्‍से में स्‍ट्रेस फ्रैक्‍चर के कारण बाहर हुए
  • बुमराह को ठीक होने में सात से आठ सप्‍ताह का समय लग सकता है
  • आशीष नेहरा ने कहा कि बुमराह का गेंदबाजी एक्‍शन उनकी चोट की वजह नहीं है

नई दिल्‍ली: टीम इंडिया के पूर्व तेज गेंदबाज आशीष नेहरा का मानना है कि जसप्रीत बुमराह के गेंदबाजी एक्‍शन का उनके स्‍ट्रेस फ्रैक्‍चर से कोई लेना-देना नहीं है और उनका साथ ही मानना है कि प्रमुख तेज गेंदबाज को अपने एक्‍शन में बदलाव करने की जरुरत नहीं है। बुमराह पीठ के निचले हिस्‍से में स्‍ट्रेस फ्रैक्‍चर के कारण दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ आगामी तीन मैचों की टेस्‍ट सीरीज से बाहर हो गए हैं। वह इसके बाद बांग्‍लादेश के खिलाफ तीन मैचों की टी20 इंटरनेशनल सीरीज में भी हिस्‍सा नहीं ले सकेंगे। खबर है कि बुमराह को ठीक होने में कम से कम सात से आठ सप्‍ताह का समय लग सकता है।

नेहरा ने पीटीआई से बातचीत में कहा, 'स्‍ट्रेस फ्रैक्‍चर का एक्‍शन से संबंध नहीं और हमें इस बात को अच्‍छे से समझना चाहिए। बुमराह को अपने गेंदबाजी एक्‍शन में बदलाव की जरुरत नहीं। अगर वह इसे बदलने की कोशिश करेंगे तो यह बेहतर नहीं होगा। मैं आपको भरोसा दिलाता हूं कि जब वह वापसी करेगा तो उसी एक्‍शन, इंटेनसिटी और गति के साथ गेंदबाजी करेगा।'

नेहरा ने आगे कहा, 'बुमराह का एक्‍शन इतना भी अलग नहीं है, जितना उसे बनाया जा रहा है। जब वह गेंद फेंकते हैं, तब उनके शरीर का संतुलन सही होता है। उनके बाएं हाथ अलग तरह से आता है। मगर उनका एक्‍शन मलिंगा से 10 गुना बेहतर है। मलिंगा के घुटने, पीछे वाले पैर का मुड़ना ऐसा लगता है कि कोई भाला फेंकने वाला (जेवलिन थ्रोअर) हो।'  अपने करियर में कई बार चोट के कारण परेशानी झेलने वाले नेहरा ने कहा कि वापसी के लिए कोई समय सीमा तय करना ठीक नहीं।

उन्होंने कहा, 'स्‍ट्रेस फ्रैक्चर के मामले में ठीक होने की कोई समय सीमा नहीं होती है। जसप्रीत (बुमराह) दो महीने में ठीक हो सकते हैं या फिर छह महीने तक मैदान से दूर रह सकते हैं। यह सिर्फ खिलाड़ी ही बता सकता है कि वह मैच के लिए तक पूरी तरह से फिट है।' नेहरा ने कहा कि इससे निपटने के लिए रिहैब्लिटेशन की जरूरत होती है क्योंकि सर्जिकल (आपरेशन) तरीके से इसका कोई इलाज नहीं। उन्होंने कहा,  'स्ट्रेस फ्रैक्चर के लिए कोई दवा नहीं होती। यह सिर्फ विश्राम और रिहैब्लिटेशन से ठीक हो सकता है।'

अगली खबर