एशेज 2019 का आईपीएल के साथ रहा सुपरहिट कनेक्शन

हाल ही में समाप्त हुई एशेज सीरीज में जिन खिलाड़ियों ने अपनी अपनी टीमों के लिए हार जीत में अहम भूमिका अदा की और आखिर में पूरी महफिल लूट ली। उन सभी के बीच आईपीएल में अनोखा कनेक्शन है।

Ashes 2019 hero Smith Archer Stokes buttler
एशेज 2019 के हीरो  |  तस्वीर साभार: AP

मुख्य बातें

  • राजस्थान रॉयल्स के खिलाड़ी एशेज 2019 में साबित हुए हीरो
  • टीम के कप्तान स्टीव स्मिथ बने सीरीज के सबसे सफल खिलाड़ी
  • बेन स्टोक्स बने इंग्लैंड के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी, आर्चर बने ओवल टेस्ट में मैन ऑफ द मैच

नई दिल्ली: इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच रविवार को समाप्त हुई एशेज सीरीज में दोनों टीमों के बीच कांटे की टक्कर देखने को मिली। पिछले 2 महीने में सीरीज के दौरान कभी भी पलड़ा किसी एक टीम की तरफ झुका हुआ नहीं दिखा। ऐसे में अंत में परिणाम भी कुछ ऐसा ही रहा और सीरीज 2-2 की बराबरी पर समाप्त हुई। एशेज 2019 के दौरान राजस्थान रॉयल्स के खिलाड़ियों ने जमकर चमक बिखेरी।

सीरीज के दौरान ऑस्ट्रेलिया के लिए स्टीव स्मिथ ने बल्ले का दम दिखाया और अकेले ही पूरी इंग्लैंड की टीम पर भारी पड़े। वहीं दूसरी तरफ इंग्लैंड के लिए जोफ्रा आर्चर, बेन स्टोक्स और जोस बटलर ने एक-एक मैच में मोर्चा संभालकर इंग्लैंड को सीरीज में बनाए रखा। एक तरह से कहा जाए तो पूरी एशेज सीरीज इन्हीं खिलाड़ियों के प्रदर्शन के इर्दगिर्द घूमती नजर आई। हालांकि कुछ और खिलाड़ियों ने भी अच्छा खेल दिखाया लेकिन ये चौकड़ी सबपर भारी साबित हुई। 

स्टीव स्मिथ 

18 महीने बाद स्टीव स्मिथ ने टेस्ट क्रिकेट में ऐसी धमाकेदार पारी खेली कि एशेज टेस्ट इतिहास में उनका नाम हमेशा के लिए स्वर्णाक्षरों में दर्ज हो गया। उन्होंने अपने बल्ले का ऐसा जौहर दिखाया कि हूटिंग के साथ सीरीज में उनका स्वागत करने वाले इंग्लिश दर्शकों को स्टैंडिंग ओवेशन देकर विदा करना पड़ा। सीरीज के दौरान 4 मैच की 7 पारियों में 110.57 की औसत से 774 रन बनाए। इस दौरान उन्होंने तीन शतक और 3 अर्धशतक जड़े। उनका सर्वाधिक स्कोर 211 रन रहा। स्मिथ का प्रदर्शन पूरी सीरीज में कितना अधिक प्रभावशाली रहा क्योंकि उनके और दूसरे नंबर पर काबिज बेन स्टोक्स के बीच 333 रन का बड़ा अंतर रहा। इसी लिए उन्हें सीरीज का सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुना गया।

बेन स्टोक्स 

मौजूदा एशेज इंग्लैंड के लिए सबसे बड़ा खिलाड़ी बनकर बेन स्टोक्स उभरे। स्टोक्स ने सीरीज ने दो शतक जड़े और दोनों ही बार उनकी टीम अविजेय रही। लॉर्ड्स टेस्ट में उन्होंने शानदार शतकीय पारी खेलकर अपनी टीम को हार से बचाकर मैच ड्रॉ करवाया। वहीं लीड्स में नाबाद 135* रन की पारी खेलकर इंग्लैंड को 1 विकेट से रोमांचक जीत दिला दी। सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में वो दूसरे पायदान पर रहे। 5 मैच की 10 पारियों में 55.12 की औसत से 441 रन बनाए। गेंदबाजी में उन्होंने 8 विकेट भी लिए। इस ऑलराउंड प्रदर्शन के लिए उन्हें सीरीज के दौरान इंग्लैंड का सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुना गया। 

जोफ्रा आर्चर 

सीरीज के दौरान टेस्ट डेब्यू करने वाले जोफ्रा आर्चर ने जहां अपने तेज गेंदबाजी के कहर से कंगारू बल्लेबाजों को परेशान किया। वहीं स्टीव स्मिथ जैसे दिग्गज बल्लेबाज को चोटिल कर बाहर बैठने को मजबूर कर दिया। उनकी कहर बरपाती गेंदों का कंगारू बल्लेबाजों को सामने कोई जवाब नहीं था। वो लगातार 95 मील की रफ्तार से गेंदबाजी करते रहे और विराधी टीम के बल्लेबाजों के हेलमेट को निशाना बनाते रहे। उन्होंने सीरीज में खेले चार मैच की 8 पारियों में 20.27 के औसत से 22 विकेट झटके। उन्होंने 2 बार पारी में पांच विकेट झटके और उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 6/45 रहा। जो उन्होंने ओवल टेस्ट की पहली पारी में किया। जिसकी बदौलत इंग्लैंड पहली पारी में 69 रन की बढ़त हासिल करने में सफल हुआ। इस मैच जिताऊ प्रदर्शन के लिए उन्हें मैन ऑफ द मैच भी चुना गया। 

जोस बटलर 

जोस बटलर का बल्ला पूरी सीरीज में उस तरह नहीं चला जिसके लिए वो जाने जाते हैं। ओवल टेस्ट में जब सीरीज बचाने के लिए टीम को सबसे ज्यादा जरूरत थी तब उन्होंने अपना जौहर दिखाते हुए पहली पारी में 70 रन की पारी खेली जो मैच में निर्णायक साबित हुई। उनकी ये पारी आर्चर की गेंदबाजी के साथ इंग्लैंड को जीत दिलाने में कारकर साबित हुई। ओवल टेस्ट की दूसरी पारी में बटलर ने 47 रन की पारी खेली। पूरी सीरीज में उन्होंने 5 मैच की 10 पारियों में 24.70 की औसत से 247 रन बनाए। 


 

Cricket News (क्रिकेट न्यूज़) Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। और साथ ही IPL News in Hindi (आईपीएल न्यूज़) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर