Chandigarh Power Crisis: 75 घंटे से बिना बिजली-पानी के जीरकपुर, भारी मुश्किलों में जीवन, जानें कब आएगी लाइट

Chandigarh: जीरकपुर की करीब सौ कॉलोनियों में बुधवार शाम सात बजे से गुल हुई बिजली अब तक नहीं आई है। आंधी में बिजली के तीन टॉवर गिर जाने के कारण यह ब्‍लैकआउट की स्थिति पैदा हुई है। पावरकॉम द्वारा मेंटिनेंस का कार्य किया जा रहा है।

Black out in Zirakpur
जीरकपुर के सैकड़ों कॉलोनियों में 75 घंटे बाद भी बिजली गुल   |  तस्वीर साभार: Representative Image
मुख्य बातें
  • जीरकपुर की सौ कॉलोनियों में 75 घंटे बाद भी नहीं आई बिजली
  • बुधवार शाम आई आंधी से गिर गए थे बिजली के तीन टॉवर
  • इन इलाकों में बिजली के साथ पानी की भी भारी किल्‍लत

Chandigarh Power Crisis: चंडीगढ़ से सटे जीरकपुर में इस समय बिजली-पानी के लिए हाहाकार मचा हुआ है। बुधवार की शाम से चली तेज आंधी और बारिश के कारण बिजली के तीन टावर गिरने के बाद से जीरकपुर के कई इलाकों में ब्‍लैक आउट चल रहा है। जिसकी वजह से लोग बिजली के साथ पानी के लिए भी तरस रहे हैं। इससे निपटने के लिए जहां प्रशासन की तरफ से पानी की व्‍यवस्‍था करने की कोशिश की जा रही है, वहीं आम लोग भी अपने खर्चे पर पानी के टैंकर मंगवाकर गुजारा कर रहे हैं।

बता दें कि बुधवार शाम आई तेज आंधी की वजह से पभात ग्रिड से जुड़े तीन बिजली टॉवर गिर गए। जिससे इस फीडर से जुड़े पभात, लोहगढ़, गांव छत सहित करीब सौ कॉलोनियों में बिजली सप्लाई पूरी तरह से ठप पड़ी हुई है। पावरकॉम के अधिकारी युद्ध स्‍तर पर बिजली बहाल करने का काम कर रहे हैं लेकिन बिजली बहाल होने में 24 घंटे और लगने की संभावना है। पावरकॉम के चीफ इंजीनियर ने बताया कि इन टॉवरों का फाउंडेशन तैयार करने में ही तीन दिन का समय लग रहा है। रविवार शाम तक सप्‍लाई शुरू हो जाने की संभावना है।

भारी दिक्‍कतों में गुजर रहा लोगों का समय

बिजली सप्लाई नहीं होने से लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। लाखों लोग कई दिनों से बगैर बिजली के अपना समय गुजर कर रहे हैं। लोगों की घरेलू और अन्य गतिविधियां बिजली न होने से बुरी तरह प्रभावित हो रही हैं। सभी घरों में मोबाइल से लेकर सभी इलेक्‍ट्रानिक गैजेट भी पूरी तरह से ठप्‍प पड़े हैं। लोग घर की छतों व होटलों में कमरा बुक कर अपना समय गुजार रहे हैं। वहीं बिजली न होने से शहर के अधिकांश हिस्सों में पानी की किल्लत भी हो रही है। लोगों ने कहा की एक आंधी ने हमें कई सौ साल पीछे ढकेल दिया। हम बगैर बिजली के जीवनयापन करने की कोशिश कर रहे हैं। जॉब से लेकर घर के जरूरी कार्य तक पूरी तरह प्रभावित हुए हैं। पावरकॉम की ओर से इस समस्या के लिए कोई भी तैयारी नहीं की जाती, हर साल तेज हवा और बारिश में बिजली की समस्या आ जाती है, लेकिन इस बार हमें बहुत बड़ी मुसीबत का सामना करना पड़ रहा है। लोगों में पावरकॉम के खिलाफ भारी रोष पाया जा रहा है।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर