चंडीगढ़ की सड़कों पर पेरिस की तरह चलेगा यातायात, फ्रांस और चंडीगढ़ के बीच बनी सहमति

Chandigarh News: चंडीगढ़ शहर में अब यातायात व्‍यवस्‍था बदलने वाली है। अब यहां पर पेरिस की तरह ट्रैफिक व्‍यवस्‍था बनाई जाएगी। इस योजना को अमलीजामा पहनाने में फ्रांस की तरफ से सहयोग दिया जाएगा। यह फैसला चंडीगढ़ के प्रशासक बनवारीलाल पुरोहित और फ्रांस के राजदूत इमैनुएल लेनिन के बीच हुए एक बैठक में लिया गया।

Chandigarh Traffic System
फ्रांसीसी राजदूत इमैनुएल लेनिन के साथ बातीचीत करते बनवारीलाल पुरोहित  |  तस्वीर साभार: Twitter
मुख्य बातें
  • पेरिस की तरह होगी चंडीगढ़ शहर में ट्रैफिक व्‍यवस्‍था
  • फ्रांस के विशेषज्ञ करेंगे ट्रैफिक व्‍यवस्‍था को बदलने में मदद
  • चंडीगढ़ प्रशासक और फ्रांसीसी राजदूत की बैठक में हुआ फैसला

चंडीगढ़ शहर की सड़कों पर अगर आपको यातायात व्‍यवस्‍था पेरिस जैसी दिखे तो चौकिएगा मत, क्‍योंकि यह जल्‍द ही हकीकत में बदलने वाला है। चंडीगढ़ प्रशासन शहर की ट्रैफिक व्‍यवस्‍था में बड़ा बदलाव करने जा रहा है। यह फैसला चंडीगढ़ के प्रशासक बनवारीलाल पुरोहित और फ्रांस के राजदूत इमैनुएल लेनिन की एक बैठक में हुआ। अब फ्रांस यहां की यातायात व्‍यवस्‍था को पेरिस की तरह बनाने में सहयोग करेगा।

दरअसल, फ्रांस के राजदूत इमैनुएल लेनिन प्रशासक बनवारीलाल पुरोहित से मिलने पंजाब राजभवन पहुंचे थे। यहां हुई बैठक में प्रशासक ने शहर की कई योजनाओं से लेनिन को अवगत कराया। इस दौरान शहर के यातायात को पेरिस की तरह चलाने की योजना पर काम करने को लेकर चर्चा हुई। लेनिन ने प्रशासक को चंडीगढ़ की यातायात व्‍यवस्‍था के अलावा शहर के स्थापत्य विरासत के जीर्णोद्धार और संरक्षण में सहयोग करने का आश्वासन दिया।

चंडीगढ़ और फ्रांस के रिश्‍ते हैं बेहद गहरे

बता दें कि, इस सिटी ब्‍यूटीफुल और फ्रांस के रिश्‍ते बेहद गहरे हैं। इस शहर का डिजाइन फ्रांसीसी वास्तुकार ली कॉर्बूजियर ने ही की है। इस बात का जिक्र करते हुए प्रशासक ने कहा कि, चंडीगढ़ के साथ फ्रांस के संबंधों को कभी भी भुलाया नहीं जा सकता। शहर की स्थापना से लेकर इसकी योजना और क्रियान्वयन तक में फ्रांस अब तक बड़ा योगदान करता रहा है। उन्‍होंने कहा कि, अब इस शहर को स्मार्ट सिटी में बदलने की दिशा में फ्रांसीसी सलाहकार अपनी सहायता दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि, चंडीगढ़ के लोगों को उम्‍मीद है कि, इस शहर के विरासती फर्नीचर की पहचान, उसकी बहाली अथवा कानूनी रक्षण में फ्रांसीसी विशेषज्ञता का पूरा सहयोग मिलेगा।

चंडीगढ़ की 24 घंटा पेयजल आपूर्ति योजना में भी फ्रांस का सहयोग

बैठक में चंडीगढ़ के सात दिन 24 घंटे पेयजल योजना की भी चर्चा की गई। इसके बारे में जानकारी देते हुए प्रशासक ने फ्रांसीसी राजदूत को बताया कि, फ्रांस की वित्तीय सहायता से इस योजना को पूरा किया जा रहा है। योजना के अंतर्गत शहर के लोगों को जल्द बेहतर जलापूर्ति की व्यवस्था मिलेगी। फ्रांसीसी राजदूत ने भी पूर्ण सहयोग का आश्वासन देते हुए कहा कि, फ्रांसीसी विशेषज्ञ कैपिटल कॉम्प्लेक्स और अन्य इमारतों में बहाली और संरक्षण कार्यों को सफलतापूर्वक पूरा करेंगे।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर