Chandigarh Transport: सीटीयू सस्‍ते में कराएगा तीर्थ स्‍थलों के दर्शन, इन रूट पर शुरू हुई बसें, जानें शेड्यूल

Chandigarh Transport: चंडीगढ़ ट्रांसपोर्ट अंडरटेकिंग ने राजस्‍थान के धार्मिक स्‍थलों समेत कई लांग व लोकल रूट पर नई बस सेवा शुरू की है। चंडीगढ़ प्रशासक बनवारी लाल पुरोहित ने राजभवन से हरी झंडी दिखाकर इन एसी बसों को रवाना किया। सीटीयू द्वारा 20 से अधिक नए रूटों पर 54 बसों को शुरू किया गया। इनमें से चार लांग रूट, नौ सब अर्बन और 11 लोकल रूट शामिल हैं।

Chandigarh Transport Undertaking
चंडीगढ़ से 20 रूट पर 54 नई एसी बसें शुरू   |  तस्वीर साभार: Twitter
मुख्य बातें
  • सीटीयू ने खाटूश्याम और सालासर बाजी धाम के लिए शुरू की बस सर्विस
  • इन एसी बसों का किराया साधारण बसों से है मात्र 20 फीसदी ज्‍यादा
  • सीटीयू ने 20 से अधिक नए रूटों पर शुरू की 54 एसी बसें, मिलेंगी कई सुविधाएं

Chandigarh Transport: चंडीगढ़वासियों को अब चंडीगढ़ ट्रांसपोर्ट अंडरटेकिंग (सीटीयू) धार्मिक स्‍थलों के दर्शन कराएगा। सीटीयू ने नई योजना शुरू की है, जिसके तहत राजस्थान के प्रमुख धार्मिक और पर्यटन स्थलों की लोगों को सैर कराई जाएगी। इन स्‍थलों में मुख्‍य रूप से सीकर जिले में स्थित प्रसिद्ध खाटूश्याम मंदिर और चुरु जिले में स्थित सालासर बालाजी धाम मंदिर शामिल है। इन जगहों के लिए चंडीगढ़ प्रशासक बनवारी लाल पुरोहित ने राजभवन से हरी झंडी दिखाकर एसी बस सर्विस शुरू की।

डायरेक्टर ट्रांसपोर्ट प्रद्युम्न सिंह ने इस नई सर्विस के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि यहां से इन धार्मिक स्थलों के साथ जयपुर के लिए भी पहली बार बस सर्विस शुरू की गई है। यह बस रोजाना वाया रोहतक होकर जयपुर पहुंचेगी। इसके अलावा नेपाल बार्डर पर उत्तराखंड के चंपावत जिले के टनकपुर के लिए भी एक बस सेवा शुरू की गई है। इस मौके पर 20 से अधिक नए रूटों पर 54 बसों को शुरू किया गया। इनमें से चार लांग रूट, नौ सब अर्बन और 11 लोकल रूट शामिल हैं।

रोजाना जाएगी और आएगी बस

अधिकारियों ने बताया कि आईएसबीटी-17 से बसें खाटूश्याम, सालासर धाम और जयपुर के लिए जाएंगी, वहीं टनकपुर के लिए आइएसबीटी-43 से बस चलेगी। बस स्‍टॉप से प्रतिदिन खाटूश्याम के लिए बस सुबह सात बजे और सालासर धाम के लिए सुबह 7.40 बजे रवाना होगी। लांग रूट पर चलने वाली सभी बसें हीट वेंटिलेशन एंड एयर कंडीशनर हैं। अधिकारियों ने कहा कि इन एसी बसों का किराया भी काफी कम है। इनका किराया साधारण बसों की मुलना में करीब 20 फीसदी ही ज्यादा रहेगा। जबकि सुपर लग्जरी बसों में दोगुना से अधिक किराया लगता है। इन बसों में यात्रियों को मोबाइल चार्जिंग प्वाइंट, एसी वेंटर, रीडिंग लाइट जैसी सुविधाएं मिलेंगी। अधिकारियों के अनुसार, इन बसों की आवाजाही से विभाग की बसें रोजाना 18 हजार किलोमीटर अधिक चलेंगी। जिससे प्रतिदिन करीब छह लाख रुपये का अतिरिक्त रेवेन्यू होगा।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर