Chandigarh Traffic News: चंडीगढ़ में शराब पीकर वाहन चलाना अब पड़ेगा भारी, पकड़े गए तो पैदल जाना पड़ेगा घर

Chandigarh Traffic News: सड़क पर शराब पीकर वाहन चलाने वाले लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए चंडीगढ़ पुलिस करीब दो साल बाद एक बार फिर एल्को मीटर लेकर उतर आई है। इस बार ड्रंक एंड ड्राइव केस में पकड़े जाने पर जुर्माना के साथ वाहन को भी जब्‍त किया जा रहा है।

Chandigarh traffic police
चंडीगढ़ ट्रैफिक पुलिस एल्को मीटर लेकर उतरी सड़क पर   |  तस्वीर साभार: Representative Image
मुख्य बातें
  • चंडीगढ़ पुलिस ने एल्को मीटर के साथ फिर शुरू की जांच
  • ड्रंक एंड ड्राइव केस में पकड़े जाने पर वाहन किया जा रहा जब्‍त
  • शुक्रवार को सात वाहनों को जब्‍त कर पुलिस ने लगाया जुर्माना

Chandigarh Traffic News: चंडीगढ़ की सड़कों पर शराब पीकर वाहन चलाना अब भारी पड़ सकता है। अगर आप ड्रंक एंड ड्राइव केस में यहां पकड़े गए तो आप पर 10 हजार रुपये जुर्माना लगाने के साथ आपका ड्राइविंग लाइसेंस भी सस्पेंड कर दिया जाएगा। इसके अलावा पुलिस आपका वाहन भी जब्‍त कर लेगी। जिससे आपको पैदल ही घर जाना पड़ेगा। जब्‍त हुए वाहन बाद में कोर्ट के अंदर चालान भरने के बाद ही दिए जाएंगे।

चंडीगढ़ पुलिस ने ड्रंक एंड ड्राइव अफेंस मामलों में सख्‍ती बढ़ा दी है। अभी तक सिर्फ जुर्माना लगाने के साथ 3 माह के लिए ड्राइविंग लाइसेंस सस्पेंड किया जाता था, लेकिन अब वाहनों को जब्‍त करने की प्रक्रिया भी शुरू कर दी गई है। बता दें कि कोरोना शुरू होने के बाद से चंडीगढ़ ट्रैफिक पुलिस ने अपने ड्रंक एंड ड्राइव के नाके बंद कर दिए गए थे। इन नाकों पर एल्को मीटर से शराब की मात्रा जांची जाती थी, लेकिन कोरोना संक्रमण फैलने के डर से इसे बंद कर दिया गया था। इस वजह से पिछले दो साल से वाहन चालक रात में शराब पीकर जमकर हुड़दंग मचा रहे थे। ऐसे वाहनों के कारण कई हादसे भी हुए। हालांकि अब एक बार फिर से ट्रैफिक पुलिस एल्को मीटर के साथ इन नाकों पर लौट आई है।

सात चालकों की कार हुई जब्‍त

शराब पीकर वाहन चलाने वाले लोगों पर लगाम लगाने के लिए पुलिस नाकों पर रात में डबल बेरिकेडिंग (जिग-जैग) लगा रही है। पुलिस ने नाका लगाकर शुक्रवार की रात को ही ड्रंक एंड ड्राइव अफेंस मामले में सात लोगों को दबोच लिया। ये सभी वीकेंड की छुट्टी होने के बाद क्‍लबों में पार्टी करके लौट रहे थे। इन सभी को पुलिस ने सेक्टर-45 के नाके पर रोका। इनके वाहनों को इंपाउंड करने के अलावा 10-10 हजार रुपये का जुर्माना लगाया गया। सभी लोगों को डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में जुर्माना जमा कर अपने वाहन ले जाने को कहा गया। जिसके बाद कोई पैदल तो कोई ऑटो कर अपने घर की तरफ रवाना हुआ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर