Chandigarh CBI Arresting: चंडीगढ़ हाउसिंग बोर्ड का अधिकारी आया सीबीआई की गिरफ्त में

Chandigarh CBI Arresting: सीबीआई ने हाउसिंग बोर्ड के एक सीनियर असिस्टेंट को रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपी का नाम शमशेर सिंह है और यह एक लंबित फाइल को आगे बढ़ाने के लिए 10 हजार रुपये रिश्वत मांग रहा था। सीबीआई अब पूरे मामले की जांच में जुटी है।

 CBI Arresting
सीबीआई का दिल्‍ली में मौजूद ऑफिस   |  तस्वीर साभार: Facebook
मुख्य बातें
  • सीबीआई के शिकंजे में फंसा एक और रिश्‍वतखोर अधिकारी
  • रिश्‍वत लेते हाउसिंग बोर्ड का एक सीनियर असिस्टेंट गिरफ्तार
  • आरोपी ने लंबित फाइल के अप्रूवल के लिए मांगे थे 10 हजार रुपये

Chandigarh CBI Arresting: चंडीगढ़ के सरकारी दफ्तरों में फैले भ्रष्‍टाचार पर नकेल कसने के लिए सीबीआई की कोशिशें लगातार जारी है। सीबीआई ने इस बार हाउसिंग बोर्ड का एक सीनियर असिस्टेंट को रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया है। आरोपित शमशेर सिंह लंबित फाइलों को आगे बढ़ाने के लिए रिश्‍वत लेता था। इसी तरह के एक मामले में सीबीआइ ने उसे रंगे हाथ ऑफिस के अंदर ही दस हजार रुपये लेते गिरफ्तार किया।

इस गिरफ्तारी के बाद सीबीआई की टीम चार घंटे तक ऑफिस के अंदर ही रूक कर आरोपित से पूछताछ करने के साथ दस्तावेजों की भी जांच की। इसके साथ हाउसिंग बोर्ड ऑफिस में लगे सीसीटीवी कैमरे की जांच कर जरूरी साक्ष्‍य जुटाए। बता दें कि पिछले माह भी सीबीआई की टीम ने चडीगढ़ में एक रिकवरी ऑफिसर को 70 हजार रुपये रिश्‍वत लेते गिरफ्तार किया था, आरोपी अभी जेल में अपनी सजा काट रहा है।

हर फाइल के फिक्‍स था रिश्वत

हाउसिंग बोर्ड में रिश्वत और भ्रष्‍टाचार की शिकायतें लगातार आती रही हैं। कहा जाता है कि, यहां पर बिना रिश्वत दिए कोई भी फाइल आगे नहीं बढ़ती है। हर फाइल के यहां रेट फिक्‍स हैं। इसकी शिकायत प्रशासनिक स्‍तर तक भी गई हैं। इस गिरफ्तारी की पुष्‍टी करते हुए चंडीगढ़ हाउसिंग बोर्ड के सीईओ आईएएस यशपाल गर्ग ने बताया कि, सीएचबी में पिछले कुछ समय से अकारण ही बड़ी संख्या में ई-फाइलें लंबित रखी जा रही थी। इसे लेकर पहले भी संबंधित अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। ऐसे ही एक लंबित फाइल में रिश्वत मांगने के आरोप में सीबीआई ने सीएचबी के सीनियर सहायक शमशेर सिंह को रंगे हाथ दस हजार रुपये की रिश्वत लेते गिरफ्तार किया है। बोर्ड के सीईओ ने कहा कि, गिरफ्तार अधिकारी पर आरोप है कि, उन्होंने मनीमाजरा के मॉडर्न हाउसिंग कांप्लेक्स में एक रेजिडेंशियल यूनिट के हस्तांतरण से संबंधित आवेदन को लेकर उक्त रिश्वत की मांग की थी। हालांकि इस मामले में अभी तक सीबीआई की तरफ से शिकायत व इस गिरफ्तारी से जुड़ी कोई अन्य जानकारी साझा नहीं की गई है। 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर