Railway Budget 2020: कब पेश होगा रेल बजट, क्या है इसका इतिहास- वे बातें जो आपको जाननी चाहिए

Rail Budget 2020: इस साल का आम बजट 1 फरवरी को पेश होगा। बजट 2020 को संसद में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण पेश करेंगी। आइए जानते हैं रेल बजट कब पेश होगा और इसकी खास बातें।

Rail budget 2020
Rail budget 2020: रेल बजट कब आएगा  |  तस्वीर साभार: BCCL

नई दिल्ली: मोदी सरकार रेल बजट 2020 को आम बजट के साथ पेश करेगी। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण 1 फरवरी को आम बजट पेश करेंगी। इस बजट में रेल बजट 2020 को लेकर कई उम्मीदें हैं। रेल मंत्री पीयूष गोयल भारतीय रेलवे को वैश्विक स्तर का बनाने के लिए वर्ल्ड क्लास इंफ्रास्ट्रक्चर को बढ़ावा देने पर लगे हुए हैं। रेल बजट 2020 इस बार के बजट का मुख्य बिंदु हो सकता है। सरकार रेलवे को फास्ट ट्रैक मोड पर लाना चाहती है। 

Railway Budget 2020 date

रेल बजट अब केंद्रीय बजट के साथ ही पेश होता है। यानी इस बार भी केंद्रीय बजट 2020 के साथ ही रेल बजट पेश होगा। 1 फरवरी को मोदी सरकार अपने इस कार्यकाल का दूसरा बजट पेश करेगी। इस बजट के साथ ही रेल बजट भी पेश होगा। 

Railway Budget 2020 speech timing

रेल बजट 2020 का भाषण भी संसद में बजट 2020 के साथ ही पढ़ा जाएगा। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ही रेल बजट 2020 का भाषण पढ़ेंगी। केंद्रीय बजट 2020 का भाषण 1 फरवरी को 11 बजे शुरू होगा। 

रेल बजट का इतिहास 

आजाद भारत का पहला रेल बजट पहले वित्त मंत्री आरके षणमुगम शेट्टी ने 26 नवंबर 1947 को पेश किया थाा। वहीं पश्चिम बंगाल मुख्य मंत्री ममता बनर्जी पहली रेल मंत्री थी, साथ ही वह पहली महिला मंत्री रहीं जिन्होंने साल 2000 में रेल बजट पेश किया। साल 2004 से 2009 तक लालू प्रसाद यादव ने रेल मंत्री का पद संभाला। 

हालांकि मोदी सरकार ने साल 2016 में एक बड़ा फैसला लेते हुए अलग से रेल बजट पेश करने की 92 साल की परंपरा तोड़ दी। नीति आयोग सदस्य विवेक देबरॉय समिति की सलाह पर रेल बजट को आम बजट में मर्ज कर दिया गया। बजट 2017-18 ऐतिहासिक बजट रहा क्योंकि इस बजट में पहली बार रेल बजट और आम बजट को एक साथ पेश किया गया। सुरेश प्रभु आखिरी रेल मंत्री रहे, जिन्होंने अलग से रेल बजट पेश किया था।

अगली खबर