Budget Expectations on Tax Slabs: बजट 2020 में सरकार मध्यम वर्ग को दे सकती है गिफ्ट, कम हो सकता है टैक्स

Income Tax Slabs Exceptions in Budget 2020: बजट 2020 में सरकार मध्यम वर्ग को राहत प्रदान कर सकती है। इसके लिए वित्त मंत्रालय टैक्स स्लैब में बदलाव या घर खरीदने पर छूट आदि प्रदान कर सकता है।

Budget 2020 Expectations
Budget 2020 Expectations: बजट में आम आदमी को मिल सकती है राहत 

नई दिल्ली: 1 फरवरी को पेश होने वाले आम बजट में केंद्र सरकार मध्यम वर्ग को इनकम टैक्स राहत प्रदान कर सकती है। वरिष्ठ सरकारी सूत्रों के हवाले से दी गई एक रिपोर्ट में बताया गया है कि वित्त मंत्रालय आने वाले आम बजट 2020-21 में इनकम टैक्स राहत प्रादन कर सकता है। सरकार ने आर्थिक वृद्धि को रफ्तार देने के लिए कई बैठकों में चर्चा की, जिसमें पाया गया कि टक्स भार में कमी का सीधा असर खर्च बढ़ाने पर होगा। 

एक अधिकारी के हवाले से लिखी गई रिपोर्ट में बताया गया है कि वित्त मंत्रालय एक ऐसे प्लान पर काम कर रही है, जिसके तहत टैक्स एडजस्टमेंट इस प्रकार से किए जा सकते हैं, जिससे मध्यम वर्ग का टैक्स 10 फीसदी तक कम हो सकता है। इसका ये मतलब है कि टैक्स स्ट्रक्चर में इस तरह से बदलाव किया जा सकता है कि यदि किसी व्यक्तिगत को साल भर में 1 लाख रुपये का टैक्स भरना होता है, तो उसे 10 हजार रुपये की बचत होगी। 

अधिकारी ने बताया, 'हम विभिन्न सुझाव पर काम कर रहे हैं। एक सुझाव ये है कि मध्यम वर्ग पर लगने वाले सभी सरचार्ज को खत्म कर दिया जाए और इनकम टैक्स संरचना को सामान्य रखा जाए। टैक्स स्लैब में बदलाव या सरचार्ज हटाकर किसी भी प्रकार से टैक्स में राहत प्रदान की जा सकती है।' इसके अतिरिक्त सरकार घर खरीने पर टैक्स इंटेंसिव के रूप में भी राहत दे सकती है।

अधिकारी ने बताया कि चूंकि रियल एस्टेट एक मुख्य सेक्टर है और इसका प्रभाव अर्थव्यवस्था पर काफी पड़ता है इसलिए नए घर खरीदारों को ध्यान में रखकर लाभ प्रदान किया जा सकता है। जहां टैक्सदाता आगामी बजट में राहत की आशा कर रहे हैं, वहीं सरकार को राजकोषीय स्थिति को संतुलित रखा है। पिछले साल जब सरकार ने कॉर्पोरेट टैक्स में कटौती की थी तो उस वक्त इनकम टैक्स में कटौती की भी मांग उठी थी।

Times Now Navbharat पर पढ़ें Business News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर