ATM चार्ज समेत 1 अगस्त से हुए ये 5 बदलाव, आपकी जेब पर पड़ेगा सीधा असर

अगस्त महीने में भी एटीएम, फंड ट्रांसफर समेत कुछ नियमों में बदलाव हुए हैं जिनका आपकी जेब पर सीधा असर पड़ेगा। 

These 5 changes, including ATM charges from August 1, will have a direct impact on your pocket
कैश लेनदेन पर चार्ज समेत कई बदलाव 

अगस्त महीना आपके वित्तीय जीवन में कुछ बदलाव ला रहा है। जो आपके पैमेंट ट्रांसफर की टाइमिंग लेकर कैश लेनदेन पर चार्ज और वेतन नियमों तक में बदलाव हो रहे हैं। अगर आप समान मासिक किस्तों का भुगतान करते हैं या बार-बार एटीएम का उपयोग करते हैं तो नए नियमों से प्रभावित होंगे। आज से लागू होने वाले बदलाव आरबीआई द्वारा पेश किए गए और बैंकों द्वारा नियमित अपडेट हैं। यहां वे सभी बदलाव दिए गए हैं जो रविवार, 1 अगस्त, 2021 से आपके वॉलेट को प्रभावित करेंगे। 

इंटरचेंज फीस में बदलाव (Change in interchange fees) 

आरबीआई ने जून में भी घोषणा की थी कि ऑटोमेटेड टेलर मशीन (एटीएम) का इस्तेमाल करना आज से महंगा हो जाएगा। बैंकों द्वारा लिया जाने वाला इंटरचेंज चार्ज 15 रुपए से बढ़ाकर 17 रुपए कर दिया गया है और गैर-वित्तीय लेनदेन के लिए शुल्क 5 रुपए से बढ़ाकर 6 रुपए कर दिया गया है। इंटरचेंज चार्ज का भुगतान डेबिट कार्ड जारी करने वाले बैंक द्वारा किया जाता है, जिसमें एटीएम से पैसा निकासी की सुविधा होती है।

आईसीआईसीआई बैंक चार्ज रिवाइज्ड (ICICI Bank charges revised)

आईसीआईसीआई बैंक ने कहा था कि वह एटीएम इंटरचेंज चार्ज, कैश लेनदेन की सीमा, चेक बुक चार्ज और कैश लेनदेन की संख्या में संशोधन करेगा। रविवार से चार्ज में संशोधन हो गया है। जमा और निकासी दोनों पर लागू हुआ है। अपने बचत खाता यूजर्स के लिए 4 फ्री लेनदेन की अनुमति देता है। हालांकि, यह फ्री लिमिट से ज्यादा होने पर हर ट्रांजैक्शन पर 150 रुपए चार्ज करेगा।

तेजी से फंड ट्रांसफर (Faster fund transfers) 

वे दिन गए जब यूजर्स को विशेष रूप से वेतन क्रेडिट, ईएमआई का भुगतान, बिल आदि जैसे फंड ट्रांसफर प्राप्त करने या करने के लिए सप्ताहांत या सार्वजनिक अवकाश खत्म होने का इंतजार करना पड़ता था। नेशनल ऑटोमेटेड क्लियरिंग हाउस (NACH), बैंकों द्वारा उपयोग की जाने वाली थोक पेमेंट सिस्टम अब शनिवार, रविवार और छुट्टियों के दिनों में भी उपलब्ध होगी। इस सिस्टम का उपयोग बैंक वेतन, पेंशन, लाभांश आदि जैसे थोक ट्रांसफर को संसाधित करने के लिए किया जाता है। यह बिजली बिल, गैस कनेक्शन, टेलीफोन बिल, पानी के बिल, ईएमआई, म्यूचुअल फंड यूनिट्स को खरीदने और बीमा प्रीमियम के लिए फंड ट्रांसफर की सुविधा भी देता है। भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (NCPI) द्वारा विकसित, NACH पेमेंट सिस्टम केवल 1 अगस्त, 2021 से पहले बैंक के कार्य दिवसों के दौरान उपलब्ध थी। आरबीआई ने जून में घोषणा की कि थोक पेमेंट सिस्टम 1 अगस्त से प्रतिदिन उपलब्ध होगा। रीयल-टाइम ग्रॉस सेटलमेंट (RTGS) की 24x7 उपलब्धता का लाभ उठाने के लिए किया गया था।

भारतीय डाक शुल्क में परिवर्तन (Changes in India Post charges)

अगर आपका इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (IPPB) में डोर-स्टेप सेवाओं का उपयोग करने वाला खाता है तो यह महंगा हो गया है। ऐसी सेवाओं के लिए अब तक कोई चार्ज नहीं था लेकिन 1 अगस्त से प्रति ग्राहक प्रत्येक डोर-स्टेप बैंकिंग अनुरोध पर 20 रुपए (प्लस जीएसटी) का चार्ज लिया जाएगा। 1 जुलाई 2021 से 1 लाख रुपए तक की बैलेंस राशि के लिए IPPB बचत खाते पर ब्याज दर 2.75% से घटाकर 2.5% कर दी गई थी। हालांकि, 1 लाख रुपए से ऊपर के बैलेंस पर ब्याज दर में कोई बदलाव नहीं किया गया।

एलपीजी सिलेंडर की कीमतें (LPG prices)

आपके गैस सिलेंडर की कीमतों की समीक्षा हर महीने गैस कंपनियां करती हैं। एक अगस्त को भी यही अभ्यास दोहराया जाएगा। 1 जुलाई से प्रभावी सभी मेट्रो शहरों में गैर-सब्सिडी वाले घरेलू तरल पेट्रोलियम गैस (एलपीजी) सिलेंडर की कीमत में 25 रुपए की बढ़ोतरी की गई थी। 14.2 किलोग्राम वजन वाले रसोई गैस सिलेंडर की कीमत दिल्ली में 834.50 रुपए और 19 किलोग्राम के घरेलू सिलेंडर की कीमत 76 रुपए की बढ़ोतरी के साथ राष्ट्रीय राजधानी 1,550 रुपए है।

Times Now Navbharat पर पढ़ें Business News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर