इस दिवालिया कंपनी को खरीदना चाहते हैं मुकेश अंबानी, रेस में वेलस्पन भी शामिल

बिजनेस
डिंपल अलावाधी
Updated Jan 11, 2022 | 10:42 IST

सिंटेक्स इंडस्ट्रीज अरमानी (Armani), Hugo Boss, डीजल (Diesel) और बर्बेरी (Burberry) जैसे वैश्विक फैशन ब्रांड्स को फैब्रिक सप्लाई करती है।

Reliance RIL-ACRE, Welspun emerge as frontrunners to acquire bankrupt Sintex Industries
इस दिवालिया कंपनी को खरीदना चाहते हैं मुकेश अंबानी, रेस में वेलस्पन भी शामिल  |  तस्वीर साभार: BCCL
मुख्य बातें
  • मुकेश अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड ने सिंटेक्स इंडस्ट्रीज के लिए बोली लगाई है।
  • रिलायंस ने एसेट्स केयर एंड रिकंस्ट्रक्शन एंटरप्राइजेज के साथ सिंटेक्स के लिए बोली लगाई है।
  • वेलस्पन एसए ने भी दिवालिया सिंटेक्स इंडस्ट्रीज के अधिग्रहण के लिए प्रमुख दावेदार है।

दिल्ली। अरबपति मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) की रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (Reliance Industries Ltd, RIL) और वेलस्पन एसए (Welspun SA) कथित तौर पर दिवालिया सिंटेक्स इंडस्ट्रीज (Sintex Industries) के अधिग्रहण के प्रमुख दावेदार के रूप में उभरे हैं। यह दूसरी दिवालिया कपड़ा निर्माता है जिसे तेल-से-दूरसंचार समूह हासिल करने की कोशिश कर रहा है। इससे पहले साल 2019 में इसने जेएम फाइनेंशियल एसेट रिकंस्ट्रक्शन कंपनी के साथ साझेदारी में आलोक इंडस्ट्रीज का अधिग्रहण किया था।

ACRE के साथ सिंटेक्स के लिए लगाई बोली 
मामले से जुड़े लोगों ने ईटी को बताया कि आरआईएल ने एरेस एसएसजी कैपिटल समर्थित एसेट्स केयर एंड रिकंस्ट्रक्शन एंटरप्राइजेज (ACRE) के साथ दिवालियापन समाधान प्रक्रिया के हिस्से के रूप में सिंटेक्स के लिए बोली लगाई है। इसने 2,863 करोड़ रुपये की समाधान योजना की पेशकश की है, जिसमें उधारदाताओं के लिए 10 फीसदी इक्विटी शामिल है।

RIL-ACRE और वेलस्पन ग्रुप यूनिट इजीगो टेक्सटाइल प्राइवेट लिमिटेड (Easygo Textile Pvt Ltd), कपड़ा बनाने वाली कंपनी के लिए चार कंपनियों के प्रस्तावों में से दो सबसे अधिक बोली लगाने वाले हैं।

दोनों प्रस्तावों के बीच मामूली अंतर
फाइनेंशियल डेली ने एक व्यक्ति के हवाले से कहा कि, 'रिलायंस इंडस्ट्रीज-एसीआरई टीम और वेलस्पन ग्रुप द्वारा किए गए प्रस्तावों के बीच मामूली अंतर है। यह आकलन करना मुश्किल है कि दोनों में से कौन सी योजना बेहतर है।'

इससे पहले, रिपोर्ट्स में उल्लेख किया गया था कि सिंटेक्स, जो कॉर्पोरेट दिवाला और समाधान प्रक्रिया से गुजर रहा है, को विदेशी फंड CarVal इन्वेस्टर्स और वर्दे कैपिटल-समर्थित आदित्य बिड़ला एसेट रिकंस्ट्रक्शन कंपनी से बोलियों सहित 16 रुचि की अभिव्यक्ति (EoI) मिली थी।

रिलायंस की पेशकश में लेनदारों को 2,280 करोड़ का भुगतान शामिल
प्रकाशन ने सूत्रों का हवाला देते हुए उल्लेख किया कि आरआईएल की पेशकश में वित्तीय लेनदारों को 2,280 करोड़ रुपये का भुगतान, वर्किंग कैपिटल की आवश्यकताओं के लिए 500 करोड़ रुपये का इक्विटी निवेश और कर्मचारियों और व्यापार लेनदारों को 83 करोड़ रुपये का भुगतान शामिल है।

Times Now Navbharat पर पढ़ें Business News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर