इस तरह पति मेहुल चोकसी के बचाव में उतरी पत्नी, बताया- किस चीज से हुई सबसे ज्यादा पीड़ा

बिजनेस
Updated Jun 02, 2021 | 20:40 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

Mehul Choksi wife Preeti Choksi: मेहुल चोकसी की पत्नी प्रीति चोकसी ने कहा है कि उनके पति को टॉर्चर किया जा रहा है और उन्हें मानसिक और शारीरिक रूप से प्रताड़ित किया जा रहा है।

Mehul Choksi
मेहुल चोकसी 

मुख्य बातें

  • मेहुल चोकसी को वापस लाने के लिए बहु-एजेंसी टीम डोमिनिका में
  • चोकसी 23 मई को एंटीगुआ से रहस्यमय तरीके से लापता हो गया था
  • उसे पड़ोसी डोमिनिका में अवैध रूप से प्रवेश करने पर हिरासत में लिया गया था

नई दिल्ली: भारत में जन्मे भगोड़े हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी को लेकर चल रहे विवाद और उसके प्रत्यर्पण की मांग के बीच उसकी पत्नी प्रीति चोकसी ने कहा है कि जिस महिला के बारे में अफवाह है कि वह उसकी प्रेमिका है, वह मेरे पति और उनके अन्य परिचितों को जानती है।

प्रीति चोकसी ने कहा, 'महिला मेरे पति और उनके अन्य परिचितों को जानती थी। वह मेरे पति के साथ समय-समय पर मिलती थी जब वह एंटीगुआ जाती थी। जो लोग उससे मिले हैं, उनसे मैंने जो समझा है, मीडिया चैनलों पर दिखाई गई महिला वही महिला नहीं है जिसे वे बारबरा के नाम से जानते थे।'

यह टिप्पणी एंटीगुआ और बारबुडा के प्रधानमंत्री गैस्टन ब्राउन द्वारा पिछले हफ्ते दिए गए बयान के बाद आई है, जिसमें उन्होंने कहा था कि मेहुल चोकसी अपनी प्रेमिका को डोमिनिका की रोमांटिक यात्रा पर ले गए थे, जहां उनका भंडाफोड़ हुआ।

मेहुल को टॉर्चर किया जा रहा: पत्नी

डोमिनिका में भगोड़े हीरा व्यवसायी को प्रताड़ित किए जाने की खबरों पर प्रीति ने कहा, 'जिस चीज ने परिवार को सबसे ज्यादा पीड़ा दी है, वह है मेरे पति के मानवाधिकारों की पूरी तरह से अवहेलना और उनकी शारीरिक यातना। अगर कोई वास्तव में उसे जीवित वापल लाना चाहता है, तो उसे शारीरिक और मानसिक रूप से प्रताड़ित करने और टॉर्चर करने की आवश्यकता क्यों थी? मेरे पति को कई स्वास्थ्य समस्याएं हैं।' मेहुल चोकी के निर्वासन के सवाल पर उनकी पत्नी ने कहा, 'वह 63 साल के हैं और वह एंटीगुआ के नागरिक हैं। उन्हें वे सभी अधिकार और सुरक्षा प्राप्त हैं जो एंटीगुआ और बारबुडा संविधान उन्हें देते हैं। मुझे कानून के शासन में और कैरिबियाई राष्ट्रों की न्याय प्रणाली में पूरा भरोसा है। हम जल्द से जल्द एंटीगुआ में उनकी सुरक्षित और सही वापसी की प्रतीक्षा कर रहे हैं।' 

भारत लाने की है तैयारी

चोकसी, जो 13,500 करोड़ रुपये के पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) ऋण धोखाधड़ी मामले में भारत में वांछित है, 23 मई को एंटीगा से लापता हो गया था। बाद में उसे 27 मई को डोमिनिका में पकड़ा गया था। डोमिनिका की एक अदालत ने चोकसी के वकीलों द्वारा दायर बंदी प्रत्यक्षीकरण पर सुनवाई करते हुए अगले आदेश तक उसके निर्वासन पर रोक लगा दी है। सीबीआई, ईडी, विदेश मंत्रालय और सीआरपीएफ की आठ सदस्यीय टीम शनिवार से डोमिनिका में डेरा डाले हुए है। चोकसी के मामले से जुड़े दस्तावेजों के साथ टीम वहां मौजूद है।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर