Tax Audit Report: ICAI ने CBDT से टैक्स ऑडिट रिपोर्ट की डेडलाइन 30 नवंबर करने की मांग की

टैक्स ऑडिट रिपोर्ट की आखिरी तारीख बढ़ाने की मांग उठने लगी है। ICAI ने टैक्स ऑडिट रिपोर्ट का डेडलाइन 30 सितंबर से बढ़ाकर 30 नवंबर करने की मांग की है। जानिए इसके पीछे सीए की संस्था ने क्या कारण गिनाए हैं।

Tax Audit Report
टैक्स ऑडिट रिपोर्ट के लिए समय सीमा बढ़ाने की मांग।  |  तस्वीर साभार: Thinkstock

नई दिल्ली: इनकम टैक्स ऑडिट की डेडलाइन बढ़ाने की मांग सभी दूर से उठ रही है। अभी इनकम टैक्स ऑडिट की डेडलाइन 30 सितंबर 2019 है। ICAI इसको 2 महीने बढ़ाकर 30 नवंबर 2019 करने की मांग कर रही है।

इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन 44AB के मुताबिक एसेसमेंट साल 2019-20 के लिए अकाउंट ऑडिट करवाने की तारीख 30 सितंबर 2019 है। इसी तरह इनकम टैक्स रिटर्न दाखिल करने की आखिरी भी 30 सितंबर है। ऑडिट और इनकम टैक्स रिटर्न भरने की तारीख बहुत तेजी से नजदीक आ रही है।

इस कारण से ICAI ने कहा कि उसके सदस्यों ने इसको लेकर चिंता जाहिर की है। इस कारण से ICAI की डारेक्ट टैक्स कमेटी ने CBDT से टैक्स ऑडिट और उससे जुड़े रिटर्न को भरने की तारीख 30 सितंबर 2019 से बढ़ाकर 30 नवंबर 2019 करने की मांग की है।

ICAI ने कहा कि टैक्सपेयर्स को नए आईटीआर फॉर्म और ऑडिट रिपोर्ट दाखिल करने में दिक्कत हो रही है। ITR और TAR की तारीख बढ़ाने को लेकर ICAI लगातार CBDT के संपर्क में है। 

ICAI के मुताबिक ITR Form में यूटिलिटिज और स्कीम और स्कीम के रेगुलर अपडेट से देरी हो रही। इसके अलावा फॉर्म में मांगी गई विस्तृत जानकारी को भरने में भी समय लग रहा है। ICAI ने कहा है कि इनकम टैक्स रिटर्न भरने की आखिरी तारीख 31 जुलाई से 31 अगस्त तक बढ़ाना भी एक कारण है। इसके अलावा देश के कई इलाकों में भारी बारिश के कारण भी दिक्कत हो रही है।

अगली खबर