इनकम टैक्स रिटर्न भरने के लिए आपको कौन सा फॉर्म चुनना चाहिए

बिजनेस
Updated Jul 19, 2019 | 13:04 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

इनकम टैक्स रिटर्न भरते समय रिटर्न के सही फॉर्म को चुनना बहुत जरूरी है। अगर आप गलत फॉर्म चुनेंगे तो हो सकता है कि आपका टैक्स रिटर्न रिजेक्ट हो जाए।

ITR Form
इनकम टैक्स रिटर्न फॉर्म। 

नई दिल्ली: इनकम टैक्स रिटर्न भरने की अंतिम तारीख नजदीक आती जा रही है। आपको 31 जुलाई तक टैक्स रिटर्न भर लेना है। आज जानिए आपको टैक्स रिटर्न भरने के लिए कौन सा फॉर्म चुनना चाहिए।

रिटर्न फॉर्म भरते समय आपका रेसिडेंशियल स्टेटस, आय का स्रोत और कितनी आय है इसका ध्यान रखना चाहिए। अगर आप वित्त वर्ष 2018-19 के लिए रिटर्न भरने जा रहे हैं तो कुछ बातों का ध्यान जरूर रखें। CBDT ने ITR2 और ITR3 फॉर्म भरने के लिए निर्देश भी जारी किए हैं।

अगर आप इनकम टैक्स भरने जा रहे हैं तो एक बार चेक कर लें कि आपका आधार कार्ड और पैन कार्ड जुड़ा है कि नहीं। आधार और पैन लिंक नहीं होने की स्थिति में आप रिटर्न नहीं भर सकेंगे। आधार और पैन कार्ड को जोड़ने के लिए इनकम टैक्स विभाग कई तरह के विकल्प देता है। इनसे आप आसानी से दोनों को लिंक कर सकते हैं।

ITR-1 (Sahaj)
ये फॉर्म व्यक्तिगत टैक्सपेयर्स को भरना चाहिए। इसको ऐसे भारतीय नागरिक भर सकते हैं जिनकी आय 50 लाख रुपए से ज्यादा नहीं है। इसमें नागरिक की सैलरी, घर और ब्याज शामिल हैं।

ITR-2
इसको व्यक्तिगत टैक्सपेयर्स और एचयूएफ भर सकते हैं। इस फॉर्म को ऐसे लोगों को भरना चाहिए जो सैलरी, एक से ज्यादा मकान, कैपिटल गेंस और दूसरे अन्य स्रोत से पैसा कमाते हैं।

ITR-3
ये फॉर्म व्यक्तिगत टैक्सपेयर्स और एचयूएफ के लिए है। जिसे नॉन रेसिडेंट, ऑर्डेनरी रेसिडेंट भर सकते हैं। इसमें सैलरी, मकान, बिजनेस से आय, कैपिटल गेंस, प्रोफेशन से आय और दूसरे स्रोत से आय शामिल होती है।

ITR-4 (Sugam)
इसे एलएलपी को छोड़कर व्यक्तिगत और एचयूएफ करदाता भर सकते हैं। इसके तहत सैलरी, एक मकान की प्रॉपर्टी, कारोबार से आय या सेक्शन 44एडी, 44एडीए और 44एई के तहत आने वाले बिजनेस और प्रोफेशनल भर सकते हैं। इसके तहत कुल आय 50 लाख रुपए से ज्यादा नहीं होनी चाहिए।

किसी कंपनी में डायरेक्टर या किसी अनलिस्टेड कंपनी में निवेश करने वाले आईटीआर 1 और आईटीआर 4 फॉर्म नहीं भर सकते हैं। इसकी जानकारी आपको आईटीआर 2 और आईटीआर 3 में देनी होगी। इसलिए इनकम टैक्स रिटर्न भरते समय आप सही फॉर्म चुनने में सावधानी बरतें।

Times Now Navbharat पर पढ़ें Business News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर