शेयर बाजार पर कोरोना वायरस का कहर, सेंसेक्स 3900 से ज्यादा अंक लुढ़का, निफ्टी में भी महा गिरावट

देश भर में तेजी से फैलते कोरोना वायरस का शेयर बाजार में बुरा असर पड़ा है। सेंसेक्स और निफ्टी में भारी गिरावट हुई है।

Corona virus havoc on stock market, Sensex and Nifty fall heavily
सेंसेक्स, निफ्टी में भारी गिरावट 

मुख्य बातें

  • सेंसेक्स में एक दिन की अब तक की सबसे बड़ी गिरावट
  • शेयर बाजार 10% से अधिक गिर गए जिसके बाद 45 मिनट के लिए बाजार में कारोबार रोक दिया गया
  • देश, दुनिया में लॉकडाउन की वजह से निवेशकों में घबराहट बढ़ी

नई दिल्ली : देश भर में फैलते कोरोना वायरस के बीच सोमवार को शेयर बाजार में महा गिरावट देखने को मिली। बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स सोमवार को 3,934.72 अंक की एक दिन की अब तक की सबसे बड़ी गिरावट के साथ बंद हुआ। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के निफ्टी में भी 1,135.20 अंक की बड़ी गिरावट दर्ज की गई। बीएसई सेंसेक्स 3,934.72 अंक यानी 13.15% लुढ़ककर 25,981.24 अंक पर बंद हुआ। वहीं एनएसई निफ्टी 1,135.20 अंक यानी 12.98% गिरकर 7,610.25 अंक पर आ गया। लोअर सर्किट भी लगा। उसके बाद कारोबार को रोकना पड़ा और 45 मिनट बाद फिर शुरू हुआ। इसके बावजूद बंबई शेयर बाजार के सेंसेक्स में 3,186 अंक का गोता लगा गया जबकि निफ्टी 7,900 के स्तर के नीचे आ गया। बीएसई सेंसेक्स 3,185.84 अंक यानी 10.65% लुढ़क कर 26,730.12 अंक पर पहुंच गया। कारोबार के दौरान यह 26,645.83 अंक के न्यूनतम स्तर तक गया। निफ्टी 923.95 अंक यानी 10.56% का गोता लगाकर 7,821.50 अंक पर पहुंच गया। दिन में कारोबार के दौरान डॉलर के मुकाबले रुपया 90 पैसे टूटकर 76.10 पर चला गया।

लोअर सर्किट भी लगा
कारोबार शुरू होने के पहले घंटे में सेंसेक्स में 10% की गिरावट और लोअर सर्किट को छूने के बाद कारोबार को 45 मिनट के लिए रोक दिया गया था। बाजार में भारी गिरावट को रोकने के लिए एक स्वचालित व्यवस्था बनाई गई है। इसके तहत अगर शेयर बाजार दोपहर एक बजे से पहले 10% गिरता है तो कारोबार को 45 मिनट के लिए रोक दिया जाता है।

इसके शेयर सबसे ज्यादा गिरे
बीएसई पर सेंसेक्स में शामिल एक्सिस बैंक का शेयर सबसे ज्यादा नुकसान में रहा। इसमें 28% से अधिक की गिरावट रही। इसके बाद बजाज फाइनेंस, इंडसइंड बैंक, आईसीआई बैंक, मारुति और एलएंडटी का स्थान रहा।

इस वजह से शेयर बाजार में हुई गिरावट
दुनिया के देशों के साथ आवागमन को पूरी तरह रोक दिये जाने के बाद सोमवार को देश में भी कई राज्यों में लोगों की आवाजाही पर पूरी तरह रोक लगा दी गई। निवेशकों में इसको लेकर घबराहट बढ़ी है और उन्हें वैश्विक बाजारों में मंदी छाने की आशंका है। कारोबारियों के अनुसार कोरोना वायरस के फैलाव को रोकने के लिए दुनियाभर में विभिन्न सरकारों के लॉकडाउन करने से वैश्विक शेयर बाजारों में भी गिरावट रही। इसका असर घरेलू बाजारों पर भी दिखा है। 

लगातार गिरावट के बाद शुक्रवार को आई थी तेजी
चार दिन की गिरावट के बाद शेयर बाजारों में शुक्रवार को तेजी आई थी लेकिन आज बाजार खुलते ही धड़ाम हो गया। शुक्रवार को बीएसई सेंसेक्स 1,627.73 अंक चढ़कर बंद हुआ था। इससे बीएसई की लिस्टेड कंपनियों का बाजार मूल्यांकन 6,32,362.29 करोड़ रुपए बढ़कर 1,16,09,143.29 करोड़ रुपए हो गया। सोमवार को गिरावट के साथ फिर से नुकसान होना शुरू हो गया।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर