Bhopal Fraud Arrested: भोपाल में आखिरकार गिरफ्त में आ गया नौकरी के नाम पर ठगी करने वाला, ऐसे करता था ठगी

Bhopal Police: नौकरी के नाम पर युवाओं को ठगने वाले शातिर को साइबर क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार कर लिया है। चौंकाने वाली बात है यह सिर्फ 10वीं पास है। जबकि लोगों को मल्टीनेशनल कंपनियों में नौकरी लगवाने का झांस देकर पैसे ऐंठता था।

Bhopal Fraud Arrested
10वीं पास शख्स नौकरी के नाम पर लोगों से ठग रहा था रुपए  |  तस्वीर साभार: Representative Image
मुख्य बातें
  • साइबर क्राइम ब्रांच की टीम ने आरोपी को दबोचा
  • हारिस खान ने पिछले महीने ठग के खिलाफ की थी शिकायत
  • नौकरी लगवाने के नाम पर हारिस से लिए थे 34,200 रुपए

Bhopal Fraud Arrested: मल्टीनेशनल कंपनियों में नौकरी लगवाने का सोशल मीडिया पर विज्ञापन निकालकर ठगी करने वाले को गिरफ्तार कर लिया गया है। साइबर क्राइम ब्रांच ने आरोपी को इंदौर से दबोचा है। साइबर क्राइम ब्रांच का कहना है कि, आरोपी सिर्फ 10वीं पास है। इसके खिलाफ भोपाल में 28 वर्षीय हारिस खान ने पिछले महीने शिकायत दर्ज करवाई थी। 

हारिस ने अपने शिकायती आवेदन में बताया था कि, उन्होंने सोशल मीडिया पर मल्टीनेशनल कंपनी में नौकरी का एक विज्ञापन देखा था। उस पर दिए नंबर पर उन्होंने कॉल किया तो सामने वाले अपना नाम एचआर शर्मा बताया। उसने नौकरी लगवाने के लिए आश्वस्त किया और रजिस्ट्रेशन फीस, ट्रेनिंग फीस, कन्फर्मेशन चार्ज एवं प्रोसेसिंग फीस के नाम पर 34,200 रुपए अपने खाते में ट्रांसफर करवा लिए थे 

अज्ञात के खिलाफ पुलिस ने दर्ज किया था मामला

हारिस की लिखित शिकायत पर पुलिस ने अज्ञात शख्स के खिलाफ शिकायत दर्ज की थी। साइबर क्राइम ब्रांच की टीम ने तकनीकी जांच के बाद द्वारिकापुरी इंदौर के रहने वाले आरोपी आलोक आजाद को उसके घर से गिरफ्तार कर लिया। आरोपी के कब्जे से मोबाइल, तीन सिम कार्ड जब्त किए गए हैं। यह पिछले दो महीनों से ठगी का काम कर रहा था। ठगी की रकम अपने ही खाते में मंगवाया करता था और फिर उन्हें निकाल लेता था। 

किसी भी अपरिचित को नहीं दें रुपए

साइबर क्राइम ब्रांच की टीम ने लोगों से अपील की है कि, किसी भी अपरिचित को किसी भी काम के लिए रुपए नहीं दें। साइबर ठगों का हथियार आपकी लापरवाही है। किसी भी प्रलोभन या अन्य चीजों में आकर किसी के खाते में पैसे ट्रांसफर नहीं करें। आगे कहा कि, किसी भी नौकरी या पैसे की बात आने पर उसकी पूरी जांच-पड़ताल करें। संबंधित कंपनी या व्यक्ति के बारे में पता करें और तब किसी प्रक्रिया की शुरुआत करें। साइबर क्राइम ब्रांच के अधिकारियों का कहना है कि, किसी तरह के संदेह होने पर तुरंत पुलिस या साइबर सेल को सूचना दें, ताकि आप या कोई अन्य साइबर ठग के झांसे में नहीं आए। 

Bhopal News in Hindi (भोपाल समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharatपर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) से अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर