Bhopal AIIMS: आखिर ऐसा क्या हुआ कि भोपाल एम्स की छात्रा ने हॉस्टल से कूद कर दे दी जान, जानिए पूरा मामला

Suicide in Bhopal AIIMS : एम्स की छात्रा ने हॉस्टल की बिल्डिंग से कूदकर जान दे दी है। एमबीबीएस सेकंड ईयर में पढ़ रही छात्रा ने यह कदम उठाया। बताया जा रहा है कि, पारिवारिक परेशानियों के कारण वह तनाव में रहती थी। छात्रा के परिजनों को सूचना दे दी गई है।

Bhopal AIIMS student gave her life
भोपाल एम्स की छात्रा ने दी जान (प्रतीकात्मक तस्वीर)  |  तस्वीर साभार: Twitter
मुख्य बातें
  • एमबीबीएस सेकंड ईयर की छात्रा मारिया मथाई ने उठाया आत्मघाती कदम
  • हॉस्टल के कमरा नंबर 322 में रहती थी 20 वर्षीय मारिया
  • हॉस्टल की तीसरी मंजिल के सामान्य बाथरूम की खिड़की से कूदकर दी जान

Bhopal AIIMS Student Commit Suicide: भोपाल एम्स में एमबीबीएस सेकंड ईयर की छात्रा ने हॉस्टल की बिल्डिंग से कूदकर जान दे दी है। पुलिस ने बताया कि छात्रा पारिवारिक कारणों से तनाव में रहती थी। अस्पताल प्रबंधक ने छात्रा के इलाज से जुड़े कागजात दिए हैं। पुलिस के अनुसार हॉस्टल के रूम नंबर 322 में 20 वर्षीय मारिया मथाई रहती थी। वह रविवार की देर शाम तीसरी मंजिल की 40 फीट ऊंचाई से कूद गई। उसने तीसरे मंजिल के सामान्य बाथरूम की खिड़की से छलांग लगाई थी।

बागसेवनिया थाना प्रभारी संजीच चौकसे का कहना है कि, छात्रा मारिया मथाई एर्नाकुलम केरल की रहने वाली थी। यह हॉस्टल के कमरे में अकेली रहती थी। इसके माता-पिता केरल में रहते हैं। मां नर्स है और पिता दवा का काम करते हैं। उसका पूरा परिवार पहले हरियाणा के गुरुग्राम में रहता था। 

फर्स्ट ईयर की मेधावी छात्रा थी मारिया

मारिया एमबीबीएस फर्स्ट ईयर की मेधावी छात्रा थी। छात्राओं का कहना है कि, उसका व्यवहार सामान्य था। सभी दोस्तों के साथ बेहद आसानी से घुल-मिल जाया करती थी। अब किस कारण से उसने यह कदम उठाया, यह समझ नहीं आ रहा। छात्रावास की अधीक्षका और छात्राओं से पुलिस पूछताछ कर रही है। दरअसल, मृतका के पास से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। न ही कोई अन्य साक्ष्य मिला है। 

दोपहर में थी सामान्य

मारिया की सहेलियों का कहना है कि, वह दोपहर में सामान्य थी। दोपहर में जब वह मिली थी तो किसी तरह की कोई परेशानी नहीं बताई थी। कुछ देर बातचीत हुई थी। फिल्मों के बारे में हमने चर्चा की थी। इधर, पुलिस ने शव को एम्स की मोर्चरी में रखवा दिया है। फॉरेंसिक टीम ने उसके कमरे और सुसाइड प्वाइंट का मुआयना किया है। फिलहाल कोई ठोस साक्ष्य हाथ नहीं लगा है। पुलिस ने बताया कि, हॉस्टल और क्लास से जुड़े ज्यादा से ज्यादा लोगों से पूछताछ की जा रही है, ताकि उसकी मौत की वजह पूरी तरह से स्पष्ट हो जाए। मां-पिता के यहां आने पर उनसे भी पूछताछ की जाएगी। वह लोग केरल से भोपाल के लिए रवाना हो चुके हैं। 
 

Bhopal News in Hindi (भोपाल समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharatपर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) से अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर