नोएडा में वाहनों को किया जाएगा कबाड़, मारुति, टोयोटा सुशो लगाएंगी इकाई 

ऑटो
Updated Nov 06, 2019 | 21:22 IST | भाषा

vehicle junk unit: वाहनों को एक समय तक इस्तेमाल करने के बाद उन्हें कबाड़ में बदलने की दिशा में काम करने की दिशा में मारुति सुजुकी और टोयोटा सुशो ने संयुक्त उद्यम लगाने की बात कही है। 

Representational Image
प्रतीकात्मक फोटो 

नयी दिल्ली: मारुति सुजुकी और टोयोटा सुशो समूह ने संयुक्त उद्यम बनाने की घोषणा की है। यह संयुक्त उद्यम वाहन को कबाड़ बनाने और उसका पुनर्चक्रण यानी रिसाइक्लिंग करने की इकाई स्थापित करेगा।
 इस संयुक्त उद्यम मारुति सुजुकी टोयोत्सु इंडिया प्राइवेट लि. में मारुति सुजुकी इंडिया की हिस्सेदारी 50 प्रतिशत की होगी। 

शेष 50 प्रतिशत हिस्सेदारी टोयोटा सुशो समूह की कंपनियों....टोयोटा सुशो कॉरपोरेशन और टोयोटा सुशो इंडिया प्राइवेट लि. के पास रहेगी। दोनों कंपनियों ने संयुक्त बयान में कहा कि एमएसटीआई 2020-21 के दौरान उत्तर प्रदेश के नोएडा में वाहन को कबाड़ और रिसाइकिल करने का कारखाना लगाएगी। बयान में कहा गया है कि देश के अन्य हिस्सों में इस तरह की इकाइयां लगाई जाएंगी।

यह इकाई मियाद की अवधि पूरी कर चुके वाहनों को कबाड़ या स्क्रैप में बदलेगी। बयान में कहा गया है कि इस प्रक्रिया में भारतीय कानूनों और वैश्विक स्तर पर मान्य गुणवत्ता तथा पर्यावरण मानदंडों के तहत ठोस एवं तरल कचरे के पूर्ण प्रबंधन शामिल होगा।

शुरुआत में नोएडा इकाई की क्षमता प्रति माह 2,000 वाहनों को कबाड़ करने की होगी। एमएसटीआई डीलरों के अलावा सीधे ग्राहकों से वाहन हासिल करेगी।

 

अगली खबर
नोएडा में वाहनों को किया जाएगा कबाड़, मारुति, टोयोटा सुशो लगाएंगी इकाई  Description: vehicle junk unit: वाहनों को एक समय तक इस्तेमाल करने के बाद उन्हें कबाड़ में बदलने की दिशा में काम करने की दिशा में मारुति सुजुकी और टोयोटा सुशो ने संयुक्त उद्यम लगाने की बात कही है। 
loadingLoading...
loadingLoading...
loadingLoading...
taboola