भारत में छोटी गाड़ियों के लिए हाइब्रिड टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करेगी होंडा

ऑटो
Updated Jul 23, 2019 | 13:59 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

होंडा अब अपनी छोटी गाड़ियों में भी हाइब्रिड टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करेगी। इसके जरिए कंपनी माइलेज और उत्सर्जन के नए मानकों को प्राप्त करने की कोशिश करेगी।

Honda
होंडा भारत में इस्तेमाल करेगी हाइब्रिड टेक्नोलॉजी 
मुख्य बातें
  • होंडा छोटी गाड़ियों में भी इस्तेमाल करेगी हाइब्रिड टेक्नोलॉजी
  • साल 2030 तक अपनी दो तिहाई यूनिट्स को इलेक्ट्रिफाई करेगी।
  • फिलहाल भारत में सिर्फ एकॉर्ड का ही हाइब्रिड मॉडल मौजूद है।

नई दिल्ली: होंडा मोटर कंपनी जल्द ही भारत में हाइब्रिड टेक्नोलॉजी पेश कर सकती है, जो कंपनी को नए माइलेज और उत्सर्जन मानक प्राप्त करने मदद करेंगे। भारत में तेजी से इलेक्ट्रिक वाहनों पर जोर दिया जा रहा है। लेकिन अभी तक भारत में मौजूद जापानी की दूसरी सबसे बड़ी कंपनी ने इस क्षेत्र में कोई ऐलान नहीं किया है। भारत सरकार का ग्रीन मोबिलिटी पर बहुत जोर है। जल्द साल 2025 तक पैसेंजर वाहनों को ग्रीन मोबिलिटी में लाना चाहती है। 

मारुति सुजुकी, हुंडई, टाटा मोटर्स, महिंद्रा एंड महिंद्रा और टोयोटा इस क्षेत्र में कदम बढ़ा दिया है, लेकिन होंडा ने अभी तक इस संबंध में कोई घोषणा नहीं की है। होंडा हाइब्रिड सिस्टम का इस्तेमाल मध्यम वर्ग और बड़े साइज के वाहन के लिए करती है, अब कंपनी इस सिस्टम को छोटी गाड़ियों के लिए भी उपयुक्त बनाने में लगी हुई है। जिससे भारत में बिकने वाली छोटी गाड़ियों को हाइब्रिड सिस्टम पर दौड़ाया जा सके। 

होंडा मोटर कंपनी के प्रेसिडेंट ताकाहिरो हाशीगो ने बताया, 'हमने अपनी वैश्विक ऑटोमोबाइल की दो तिहाई यूनिट को साल 2030 तक इलेक्ट्रिफाई करने का लक्ष्य रखा है। आवश्यक इंफ्रास्ट्रक्चर को देखते हुए और लोग ऑटोमोबाइल का इस्तेमाल कैसे करते हैं को ध्यान में रख कर हमें लगता है कि इस वक्त कॉर्पोरेट एवरेज फ्यूल इकोनॉमी स्टैंडर्ड को प्राप्त करने के लिए हाइब्रिड टेक्नोलॉजी सबसे प्रभावी तरीका है। हम अपने ज्यादातर प्रोडक्ट्स को हाइब्रिड से इलेक्ट्रिफाई करेंगे।'

मौजूदा वक्त में होंडा की लग्जरी सेडान एकॉर्ड एक मात्र कार भारत में मौजूद है, जो हाइब्रिड टेक्नोलॉजी के साथ आती है। एकॉर्ड हाइब्रिड की कीमत 43 लाख रुपए एक्स शोरूम है। इस कार में आईएमएमडी टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया गया है, जिसे होंडा अन्य कारों में इस्तेमाल करना चाहती है। 

ताकाहिरो ने कहा, 'इस साल के अंत तक होंडा आईएमएमडी का इस्तेमाल अपने पूरे लाइनअप में करेगी। मिड और बड़े साइज के वाहनों के अतिरिक्त हम छोटे साइज के वाहनों के लिए आईएमएमडी का कॉम्पैक्ट वर्जन विकसित कर रहे हैं। इस टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल नई फिट में किया जाएगा, जिसे टोक्यो मोटर शो में प्रदर्शित किया जाएगा।'

बता दें कि फिट होंडा जैज का अंतरराष्ट्रीय नाम है, जो भारत में एक प्रीमियम हैचबैक की श्रेणी में आती है। ग्रीन मोबिलिटी को लेकर इस वक्त ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री दो भाग में बटी हुई है। एक समुह जैसे टाटा मोटर्स, महिंद्रा एंड महिंद्रा, हुंडई इलेक्ट्रिक वाहनों पर जोर दे रही हैं, तो दूसरा समुह मारुति सुजुकी, वॉल्वो, टोयोटा और होंडा हाइब्रिड टेक्नोलॉजी पर जोर दे रहे हैं।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर