Bike : जीएसटी में कटौती से बाइक इंडस्ट्री को मिलेगी रफ्तार- होंडा

ऑटो
भाषा
Updated Sep 20, 2020 | 20:33 IST

होंडा मोटरसाइकिल एंड स्कूटर इंडिया ने दोपहिया वाहनों पर जीएसटी में कटौती से बाइक की डिमांड बढ़ेगी।

Bike industry will gain momentum due to reduction in GST: Honda
होंडा बाइक 

नई दिल्ली : होंडा मोटरसाइकिल एंड स्कूटर इंडिया (एचएमएसआई) ने दोपहिया वाहनों पर माल एवं सेवा कर (जीएसटी) में कटौती को लेकर उद्योग के विभिन्न हलकों की मांग का समर्थन किया है। कंपनी ने कहा कि इस कदम से चुनौतीपूर्ण कारोबारी माहौल का सामना कर रहे क्षेत्र को पटरी पर लाने और उसकी वृद्धि को गति देने में मदद मिलेगी। जापान की वाहन कंपनी के एक वरिष्ठ अधिकरी ने कहा कि क्षेत्र आर्थिक नरमी के कारण इस समय कई चुनौतियों का सामना कर रहा है। इन चुनौतियों के कारण क्षेत्र की वृद्धि प्रभावित हुई है।

एचएमएसआई के निदेशक (बिक्री और विपणन) यादविंदर सिंह गुलेरिया ने कहा कि हमें भरोसा है कि इस प्रकार के कदम से खरीदारों के लिये वाहन सस्ता होगा और इससे उनकी बचत बढ़ेगी। उनसे यह पूछा गया था कि क्या दोपहिया वाहनों पर जीएसटी में कटौती से क्षेत्र को पटरी पर लाने में मदद मदद मिलेगी।
गुलेरिया ने कहा कि इससे निश्चित रूप से मदद मिलेगी। उद्योग इस समय चुनौतियों का सामना कर रहा है। ऐसे में जीएसटी में कटौती से उद्योग की वृद्धि को गति मिलेगी।

उन्होंने इस बारे में विस्तार से बताते हुए कहा कि लोग आर्थिक नरमी से जुड़ी अनिश्चितता के दौरान नकद अपने पास संभाल कर रखना चाहते है। साथ ही कोविड-19 स्थिति को देखते हुए अपना वाहन लेना चाहते हैं। ऐसी स्थिति में अगर दोपहिया वाहन सस्ता होता है, तो इससे उन्हें मदद मिलेगी।

दोपहिया वाहन उद्योग जीएसटी 28 प्रतिशत से कम कर 18 प्रतिशत करने की मांग कर रहा है। उसकी दलील है कि दोपहिया वाहन मध्यम आय वर्ग की श्रेणी में आने वाले लाखों परिवार के लिये परिवहन के लिये एक बुनियादी जरूरत है। गुजरात में नव-निर्मित असेंबली लाइन से उत्पादन के बारे में पूछे जाने पर गुलेरिया ने कहा कि ढांचागत सुविधा तैयार है लेकिन इकाइयों के उत्पादन में समय लगेगा।

उन्होंने कहा कि अभी हमारे पास कारखानों में पर्याप्त क्षमता है। ऐसे में हम वहां अभी उत्पादन शुरू नहीं करने जा रहे हैं। यह इस बात पर निर्भर करेगा कि बाजार का रुख क्या होता है। बाजार की स्थिति अगर सुधरती है, तब हम वहां से उत्पादन शुरू करने को तैयार हैं। कंपनी स्कूटर खंड में पहले से मजबूत है। अब वह देश में मोटरसाइकिल कारोबार में विस्तार पर ध्यान दे रही है। कंपनी की मोटरसाइकिल खंड में बाजार हिस्सेदारी करीब 14 प्रतिशत है।

इस बारे में गुलेरिया ने कहा कि यह ऐसा क्षेत्र है जहां हमें बिक्री नेटवर्क के साथ उत्पाद पोर्टफोलियो पर ध्यान देना है। उत्पादों के बारे में उन्होंने कहा कि कंपनी को सस्ती और महंगी दोनों स्तर की मोटरसाइकिल लानी होगी। गुलेरिया ने कहा कि हमें दोनों स्तरों पर विस्तार की जरूरत है। कम कीमत वाले उत्पाद ग्रामीण क्षेत्रों के लिये होंगे। हम सस्ती मोटरसाइकिल पेश करेंगे। लेकिन साथ ही हमने एक्स ब्लेड, होर्नेट 2.0 जैसे उत्पाद पेश कर प्रीमियम खंड में विस्तार शुरू कर दिया है। उन्होंने कहा कि कंपनी के बाइक खंड में बिक्री नेटवर्क के विस्तार की भी जरूरत है। कंपनी बाजार स्थिति में सुधार के साथ इस ओर विशेष ध्यान देगी।
 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर