Agra Fraud: क्रिप्टो करंसी के नाम पर 20 लाख की धोखाधड़ी करने वाला कंपनी संचालक गिरफ्तार, ऐसे बनाता था शिकार

Agra Fraud: आगरा पुलिस ने एक ऐसे व्‍यक्ति को गिरफ्तार किया है, जो फर्जी कंपनी बनाकर लोगों के साथ ठगी करता था। आरोपी के खिलाफ एक व्‍यक्ति ने क्रिप्‍टो करंसी में निवेश के नाम पर 20 लाख रुपये हड़पने की शिकायत दर्ज कराई थी। इस आरोप में शामिल तीन अन्‍य व्‍यक्तियों की पुलिस तलाश कर रही है।

Fraud accused arrested
फ्रॉड करने वाला आरोपी गिरफ्तार  |  तस्वीर साभार: Representative Image
मुख्य बातें
  • क्रिप्‍टो करंसी में निवेश के नाम पर 20 लाख रुपये हड़पने वाला गिरफ्तार
  • आरोपी फर्जी कंपनी बनाकर लोगों के साथ करता था ठगी
  • आरोपी के तीन अन्‍य रिश्‍तेदार अभी भी पुलिस गिरफ्त से बाहर

Agra Fraud:  क्रिप्‍टो करंसी में निवेश के नाम पर लोगों के साथ धोखाधड़ी करने वाला कंपनी संचालक गिरफ्तार हो गया है। आरोपी ने एक व्‍यक्ति से निवेश के नाम पर 20 लाख रुपये हड़प लिए थे। आगरा पुलिस ने आरोपी कंपनी संचालक अमित उर्फ प्रेम चौहान को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। वहीं इस फ्रॉड में शामिल तीन और आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार दबिश दे रही है।

निवेश के नाम पर फ्रॉड का यह मामला कमला नगर के रहने वाले विनोद कुमार शर्मा ने दर्ज कराया था। पुलिस को दी शिकायत में विनोद कुमार ने बताया कि, शामली के रहने वाले अमित कुमार उर्फ प्रेम चौहान से उनकी दोस्ती हुई थी। उसने मुझसे 20 लाख रुपये निवेश करवाए थे, बाद में वह पैसे देने से मुकर गया। पुलिस अब दूसरे आरोपियों को गिरफ्तार करने की कोशिश में जुटी है।

इस तरह दिया फ्रॉड को अंजाम

पुलिस को दी शिकायत में विनोद कुमार शर्मा ने बताया कि, अमित के साथ दोस्‍ती होने के बाद वह अपनी पत्नी मानवी, बड़े भाई ईश्वरपाल सिंह और मित्र अजय कुमार के साथ उसके घर आए थे। इस दौरान हुई बातचीत के समय अमित ने बताया कि, उसकी क्रिप्टो प्राफिट इन्फोटेक ​लिमिटेड के नाम से एक कंपनी है। अगर तुम इसमें पूंजी निवेश करोगे तो अच्छा लाभ कमा सकते है। विनोद शर्मा ने कहा कि, अमित की बातों में आकर मैंने उसे कैश और नेफ्ट के माध्यम से करीब 20 लाख रुपये दे दिए। अमित ने इस निवेश के लिए एक समय सीमा तय की थी, जब वह पूरी हो गई तो विनोद शर्मा ने लाभांश सहित अपने पूरे पैसे मांगने शुरू कर दिए। विनोद शर्मा ने बताया कि, जब मैंने उससे अपने पैसे मांगे तो वो टालमटोल करने लगा। इसके बाद विनोद ने आरोपित की पत्‍नी व भाई से भी बात की, लेकिन सभी उसे टरकाते रहे। विनोद ने बताया कि, बाद में जानकारी करने पर पता चला कि, इन आरोपितों की एक गैंग है। जो फर्जी कंपनी बनाकर लोगों से रकम जमा कराकर धोखाधड़ी करते हैं। जिसके बाद पीड़ित ने इस फ्रॉड की शिकायत पुलिस में दी।

Agra News in Hindi (आगरा समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर